Monday, July 13, 2015

गैस सब्सिडी

बहुतों ने गैस सब्सिडी छोड़ दी , ज़रा आंकड़े दीजिये कि इससे कितने गरीब घरों को गैस का चूल्हा पहुँचाया गया ? 'Give it up " का विज्ञापन तो बहुत धूम मचा रहा है ! लोगों को इमोशनल ब्लैकमेल करके उन्हें लूट रहा है , लेकिन जो पैसा सरकारी खजाने में जा रहा है , उसका लाभ कौन ले रहा है ?
.
प्रतिदिन लगभग २५००० लोग अपनी सब्सिडी छोड़ रहे हैं और उनकी मेहनत की कमाई कहाँ जा रही है , ये सोचने की भी फुर्सत नहीं हैं उनको !
.
देते कुछ नहीं , मांगते सब कुछ हैं ! कुछ दिनों में ये जनता कि सैलरी भी मांग लेंगें ! खुद तो जनता के पैसे पर ऐश करते हैं ! मुफ्त वाहन , सिक्योरटी आदि आदि ...
.

3 comments:

ब्लॉग बुलेटिन said...

ब्लॉग बुलेटिन की आज की बुलेटिन, फ़िल्मी गीत और बीमारियां - ब्लॉग बुलेटिन , मे आपकी पोस्ट को भी शामिल किया गया है ... सादर आभार !

सुशील कुमार जोशी said...

डेढ़ रुप्पली के मुर्गे की टाँग जो सब्सीडी में खा रहे हैं लोक सभा कैंटीन में उसमें एडजस्ट हो जायेगी ।

Anonymous said...

Link exchange is nothing else but it is just placing the other person's webpage link on your page at suitable place and other person will also do same in favor of you.


Feel free to visit my homepage - locksmith Camarillo