Friday, February 22, 2013

गृह मंत्री ने दी गाली

सुशिल कुमार शिंदे जी ने हिन्दु-आतंकवाद कहकर गाली दी पहले फिर परिस्थितियां विरोधी देखकर  एक औपचारिक 'माफ़ी' भी मांग ली १

क्या समझा जाए?

शिंदे खुद को बेवक़ूफ़ बना रहे हैं या फिर भाजपा को? या फिर भाजपा ही अपनी और उछाली गयी चवन्नी में खुश और संतृष्ट है ?

Zeal  

8 comments:

रविकर said...

खुद को-
पर जरुरत क्या है-

बढ़िया विषय |
आभार आदरेया-

Bhola-Krishna said...

जयपुर में "भगवा आतंक" की सनसनी फैलाने के बाद इतने दिनों तक अपने बयान पर डटें रहें मंत्री महोदय , ठीक सत्र से पहले क्षमा याचना करते हैं !हैदराबद की आतंकवादी दुर्घटना के बाद यह कह कर कि " मैंने सारे देश में एलर्टजारी करवा दिया" उन्होंने हाथ झाड लिए ! मकबूल द्वारा कबूली गई 'आई एम्' की हैदराबादी रेकी की विशेष जानकारी होते हुए भी न तो केन्द्र न राज्य सरकार ने उधर समुचित ध्यान दिया ! धन्य हैं हमारा सरकारी तन्त्र ?
काश आम भारतीय नागरिक समझते ?
- अंकल आंटी , ब्रूक्लाइन MA,USA

भारतीय नागरिक - Indian Citizen said...

वोट तो सभी को चाहिये.

Ramakant Singh said...

बहुत कठिन है किसी सज्जन के मन को पढ़ पाना

दिवस said...

अभिषेक मनु सिंघियों और रेणुका चौधरियों की पार्टी है। घिनौनेपन से बाज़ आने से रहे। अब किसी महिला संगठन के पेट में मरोड़ नहीं उठेगा।

Rajendra Kumar said...

ये तो नेताओं के लिए नई बात नही.

दिगम्बर नासवा said...

राजनीति की बातें राजनेता अच्छा जानते हैं ...

surenderpal vaidya said...

ये बिल्लियाँ चूहे भी खाती रहती हैं हज भी करती रहती है , ये लोग विश्वास के योग्य कतई नहीँ हैं। धूर्तता इनके खून मेँ हैँ।