Thursday, October 7, 2010

इतना मुश्किल भी नहीं आपको समझना --आप तो मेरी ही तरह भावुक हैं...

वैसे तो ये जीवन बहुत छोटा है एक दुसरे को समझने के लिए। फिर भी हम कोशिश करते हैं की सबको जानें और समझें। कभी उसके चेहरे को पढ़कर, कभी उसकी ख़ामोशी को, कभी उसकी मुस्कराहट से, कभी आँखों में छलकते आंसुओं से, कभी उसके विचारों से , कभी हथेली की रेखाओं से।

आज हम कोशिश करेंगे आपको जानने की, आपकी जन्म-तिथि तथा उसके मूलांक से।

तो बताइए अपने जन्म की तारीख और मदद कीजिये मेरी , आपको समझने में।


मूलांक
-

संचालक ग्रह - सूर्य
जन्म-तारीखें - १, १०, १९, २८
शुभ दिन- रविवार , सोमवार।
शुभ रंग- सुनहरा , पीला भूरा
मित्र अंक- २, ३
शुभ रत्न - रूबी , हीरा।
शुभ धातु- तांबा, सोना।
आपकी विशेषताएं- बेहद महत्वकांशी , अविष्कारक, दृढ-निश्चयी , जिद्दी , बंधन पसंद न करने वाले, जहां भी होते हैं, अपना वर्चस्व बनाकर रखते हैं।

इस अंक की मशहूर हस्तियाँ -- वैज्ञानिक लेनिन , मार्टिन लूथर, इंदिरा गाँधी , बिल क्लिंटन , माइकल जेक्सन, मदर टेरेसा, ऐश्वर्या राय।

मूलांक -

संचालक ग्रह - चन्द्रमा
जन्म-तारीखें - २, ११, २०, २९
शुभ दिन-रविवार, सोमवार, शुक्रवार।
शुभ रंग- सफ़ेद, क्रीम हरा, हलके रंग। ,
मित्र अंक-१, ४, ७
शुभ रत्न -मोती, पन्ना, मून स्टोन
शुभ धातु- चाँदी , प्लेटिनम
आपकी विशेषताएं- सौम्य, कल्पनाशील, विचार एवं संवेदनशील, भावुक , अछे परामर्शदाता, अध्यात्मिक, एकांत प्रिय , सत्यवादी तथा स्पष्टवक्ता। इनमें नेतृत्त्व का अद्भुत गुण होता है।

इस अंक की मशहूर हस्तियाँ-- महात्मा गांधी, लाल बहादुर शास्त्री, विनोबा भावे, राजीव घंधी, मिखाइल गरबाचोव,थामस एल्व एडिसन , अडोल्फ हिटलर, जोन्स कीट, गुरुनानक, स्टेव फोर्ड, रोबेर्ट क्लइव , अमिताभ बच्चन ।

मूलांक -

संचालक ग्रह - बृहस्पति
जन्म-तारीखें - ३, १२, २१, ३०
शुभ दिन- मंगल, गुरु, शुक्रवार
शुभ रंग- मोव , बैगनी
मित्र अंक- ६, 9
शुभ रत्न - नीलम, एमेथिस्ट
शुभ धातु- सोना
आपकी विशेषताएं- महत्वाकांक्षी , गर्वीले, बेहद स्वतंत्र विचारों वाले, न्याय एवं अनुशासन प्रिय , थोड़े से तानाशाह एवं बुलंद हौसले वाले। , dynamic , स्वाभिमानी तथा उच्च पदस्थ होते हैं।

इस अंक की मशहूर हस्तियाँ-- स्वामी विवेकानंद, अब्राहम लिंकन, विंस्टन चर्चिल, ग्राहम बेल , वैज्ञानिक डार्विन, बेनजीर भुट्टो, रजनीकांत।

मूलांक-

संचालक ग्रह - राहू।
जन्म-तारीखें - ४, १३, २२, ३१
शुभ दिन- रवि, सोमवार
शुभ रंग- सफ़ेद, नीला, सिलेटी
मित्र अंक- १, २, 7
शुभ रत्न -नीलम
शुभ धातु- तांबा
आपकी विशेषताएं- थोडा विद्रोही [रिबेल] , बेहेसी, बुद्धिमान, हर बात बिलकुल विपरीत नज़रिए से देखते हैं। अतिवादी प्रवित्ति के , एनालिटिकल ।

इस अंक की मशहूर हस्तियाँ-- माइकल फैराडे, एस रामानुजन, सरदार वल्लभ भाई पटेल , सरिजिनी नायडू,


मूलांक -

संचालक ग्रह - बुद्ध
जन्म-तारीखें -५, १४ , २३।
शुभ दिन- बुद्धवार
शुभ रंग- सभी हलके रंग
मित्र अंक- सभी अंक इनके मित्र अंक हैं।
शुभ रत्न - पन्ना , हीरा।
शुभ धातु- चाँदी, प्लेटिनम
आपकी विशेषताएं- बेहद हिम्मतवाले, जोखिम उठाने वाले, बुद्धिमान, धनी, बेहद दोस्ताना स्वभाव वाले होते हैं।

इस अंक की मशहूर हस्तियाँ-- भगवान् बुद्ध, जवाहर लाल नेहरु। डॉ एस राधाकृष्णन।

मूलांक -

संचालक ग्रह - शुक्र
जन्म-तारीखें - ६, १५, २४
शुभ दिन- मंगल, शुक्रवार
शुभ रंग- नीला, गुलाबी
मित्र अंक- ३, ९
शुभ रत्न - पन्ना, तर्कोइज़
शुभ धातु- चाँदी, प्लेटिनम
आपकी विशेषताएं- आप जानते हैं की आप बेहद आशिक मिजाज़ हैं। आप मधुर स्वभाव वाले , बुद्धिमान तथा प्रेम करने वाला सुन्दर व्यक्तित्व रखते हैं।

इस अंक की मशहूर हस्तियाँ--टैगोर , नेपोलियन बोनापार्ट , श्री और्बिन्दो , अख़बार, रोनाल्ड रीगन , सरदार भगत सिंह।

मूलांक -

संचालक ग्रह -केतु
जन्म-तारीखें - ७, १६, २५,
शुभ दिन-सोम, रविवार
शुभ रंग- सफ़ेद , हरा, हल्का पीला
मित्र अंक- १, २, ४
शुभ रत्न - कैट्स आई
शुभ धातु- प्लेटिनम
आपकी विशेषताएं- बहुत ही स्वतंत और मौलिक विचार वाले। परफेक्शनिस्ट , अध्यात्मिक , पैसों तथा भौतिक ऐश्वर्य के प्रति उदासीन , थोड़े जिद्दी, अकेले कार्य करना पसंद करते हैं।

इस अंक की मशहूर हस्तियाँ--मदन मोहन मालवीय, कुईं एलिज़ाबेथ चार्ल्स डिकेंस, मेरी क्युरी, गोविन्द रानाडे। अटल बिहारी बाजपाई।

मूलांक -

संचालक ग्रह - शनि
जन्म-तारीखें - ८, १७, २६
शुभ दिन- सोम, शनि, रविवार.
शुभ रंग- गहरा नीला
मित्र अंक- १, ५ , ६
शुभ रत्न - नीलम, हीरा
शुभ धातु- सोना
आपकी विशेषताएं- भौतिकवादी, धार्मिक, सज्जन स्वाभाव के, अपने ध्येय पर सदैव दृष्टि रखते हैं, अवसरवादी तथा आशावादी।

इस अंक की मशहूर हस्तियाँ-- इश्वर चंद्र विद्यासागर, जोर्ज बर्नार्ड शा , हैदर अली, स्वामी सिवानन्द , गुरु नानक।

मूलांक-

संचालक ग्रह - मंगल
जन्म-तारीखें - ९, १८, २७
शुभ दिन-मंगल , बृहस्पत, शुक्रवार।
शुभ रंग- लाल, क्रिमसन, गुलाबी।
मित्र अंक- ३, ६
शुभ रत्न -रूबी, रेड कोरल , गार्नेट
शुभ धातु-तांबा
आपकी विशेषताएं- दृढ निश्चयी तथा प्रबल इच्छाशक्ति वाले , सर्वत्र विजेता , बेहद स्वतंत्र विचारों वाले , दोमिनेतिंग, गुस्सेवाले परन्तु दयालु।

इस अंक की मशहूर हस्तियाँ-- राम कृष परमहंस, लिओ टालस्टाय , नेलसन मंडेला, विजय लक्ष्मी पंडित , जॉन मिल्टन ।

आभार।

182 comments:

यशवन्त माथुर said...

numerology मेरा fav subject है;लीजिये जान लीजिये मुझ को मूलांक ४ से.

Vijai Mathur said...

Diviyaji,
Jyotish ke chetra me padarpan key liye hamari shubhkamnayen evam badhai.ham is chetra me aapki safalta ki kamna kartey hai yah aapkey medical proffession mey labhdayak rahega.
Ek reqest bhi hai ki kripya Anargal tippnniyon ka jawab na diya karen .

आशीष मिश्रा said...

mera mulank 3 hai...:)
very nice post
thanx a lot

Bhushan said...

मुझे तो सभी अंक अपने से लगते हैं.

दिगम्बर नासवा said...

अंकों के गणित में उलझने की बजाय ... सभी अंकों में जीना ज़्यादा अच्छा है ....
वैसे आप डाक्टर के साथ साथ अनेक विधाओं की ग्याता हैं .... अच्छा लगा जान कर ...

वन्दना said...

यूँ तो मूलांक 8 है मगर ज़िन्दगी सिर्फ़ अंको मे सिमटी नही होती……………उससे आगे भी बहुत कुछ है।

G Vishwanath said...

त्रुटी सुधार: मूलांक ८ दो बार लिखा है।
दूसरी बार ९ होना चाहिए था।

केवल तारीख से मूलांक निश्चय हो सकता है?
महीने का क्या? वर्ष का क्या? समय का क्या? जन्मस्थान का क्या?


वैसे इन चीज़ों में मेरा न विश्वास है और न ही अविश्वास!
जो पत्रिकाओं में छपते हैं उसे पढता हूँ।
अच्छी बातों पर यकीन कर लेता हूँ।
बुरी बातों को भूल जाता हूँ और ध्यान नहीं देता।

मेरा मूलांक ८ है।
जो लिखा है मेरे बारे में उसमें कुछ भी सच नहीं है!
पर शायद यह मेरी गलतफ़हमी है।
और लोग मेरे बारे में क्या सोचते होंगे, मुझे नहीं मालूम।
क्या पता मेरे बारे जो लिखा है वह सच है और सबको पता है, केवल मैं ही अन्धेरे में हूँ!
किसी ने कहा था : "know thyself"
आज पता चला मैं क्या हूँ।
शुभकामनाएं
जी विश्वनाथ

Shekhar Suman said...

माफ़ कीजिये दिव्या जी , लेकिन ये मूलांक क्या होता है....? ? ?
मेरी जन्म तिथि ७ जुलाई १९८५ है ...कृपया मेरा मूलांक बता दें, बहुत उत्सुकता हो रही है...

G Vishwanath said...

शेखर सुमन,
आपका मूलांक ७ है
जी विश्वनाथ

ZEAL said...

.

यहाँ मूलांक जन्म तिथि से लिया गया है। जैसे आपका मूलांक ७ है। इसी प्रकार १६=१+६ =७ तथा २५=२+५ = ७ का भी मूलांक ७ है। अतः किसी भी महीने की ७, १६, तथा २५ तारिख को जन्मे व्यक्ति का मूलांक ७ होगा।

भारतीय अंकशास्त्र के अनुसार तीन तरह से मूलांक की गणना करते हैं -

उदाहरn.

७ जुलाई १९८५ -

१-Psychic number -- मूलांक हुआ ७
२-Destiny number -- ७+ १+९+८+५ = ३०= ३+० = ३ हुआ मूलांक
३-Name number -- आपके नाम के अनुसार भी मूलांक होता है । यदि लोग आपको भिन्न नामों से पुकारते हैं, तो आपके नाम के मूलांक एक से ज्यादा हो सकते हैं।

.

महेन्द्र मिश्र said...

मेरा जन्मदिन १ जनवरी है इसीलिए मै हमेशा एक अंक को ही शुभ मानता हूँ .... हलाकि महाराज लोग कुछ और गुणाभाग कर बता देते हैं ...

ZEAL said...

.

विजय जी,
ध्यान रखूंगी आपकी बात का।

.

Shekhar Suman said...

अरे वाह इनमे से कुछ बातें सही है...
मैं अकेला रहना पसंद करता हूँ, और यह तो मैंने ब्लॉग पर अपने परिचय में भी लिखा है | आध्यात्मिक नहीं हूँ, मैं तो नास्तिक हूँ...

खैर अच्छा लगा जानकर | बहुत बहुत धन्यवाद....

'उदय' said...

... vaah ... bahut khoob ... naye naye prayog !

arvind said...

bahut badhiya....mera mulank 6 hai...mujhe lagta hai ki num. forcast bahut sahi hai..

anshumala said...

मूलांक तो केवल ९ ही हुए क्या हम दुनिया के अरबो लोगों के स्वभाव को सिर्फ ९ भागो में बाट सकते है क्या लोग बस इस ९ तरीको के ही होते है | यही बात राशियों पर भी लागु होती है केवल १२ ही है | मुझे लगता है की यदि दुनिया में १० अरब लोग है तो स्वभाव की श्रेणी भी १० अरब होगी ९ या बारह नहीं | ये मै कई बार पढ़ चुकी हु पर कभी भी मेरा या मेरे पति का जो स्वभाव है इससे मैच नहीं करता है बल्कि ठीक उलटा होता है |

ashish said...

अरे वाह , ये तो एकदम नई विधा की बात कर रही है डॉक्टर साब. सचमुच बहुत अध्ययन करती हो आप , वैसे आप कहती हो तो बता देता हूँ मेरा मूलांक ८ है . बढ़िया पोस्ट .

Ganesh said...

Hello Zeal,
Interesting topic..I believe astrology/numerology gives a general forecast ie no 2 person of the same birth chart may have the same forecast come true for them...but interesting and only a skilled astrologist/numerologist can correctly forecast..but many times they are also wrong..nobody can work out the nature...

abhishek1502 said...

बहुत ही अच्छी जानकारी दी आप ने ,
अपने मूलांक (6) के बारे में जान कर अच्छा लगा

S.M.MAsum said...

thanks

वीना said...

अच्छी जानकारी है...अपने बारे में भी जाना...मेरा मूलांक-5 है

ethereal_infinia said...

Dearest ZEAL:

Interesting elementary reading.

As such, occult always intrigues me and I am a staunch believer in it.

It is an handiwork of Providence and what can I say of it but --

I do not know what, and fear to find,
Mine eye to great a flatterer for my mind.
Fate, show thy force! Ourselves we do not owe;
What is decreed must be, and be this so.

Date 0710
Time 0711

Arth Desai

डॉ. रूपचन्द्र शास्त्री मयंक (उच्चारण) said...

पोस्ट के हिसाब से तो हमारा भी मूलांक 4 ही है!

डॉ. नूतन - नीति said...

बहुत सुन्दर जानकारी दी आपने.. और जो भी इन्हें तो यूं भी थोडा हंसी मजाक के लिए भी इस्तेमाल करते है | मेरे मूलांक ऐसा कहता है आपका क्या कहता है ..एक रहस्य - रोमांच ..मेरा मूलांक १ है.. अब घर में सभी के देखती हूँ .. धन्यवाद दिव्या ..

विरेन्द्र सिंह चौहान said...

अरे ये तो बड़ी अच्छी जानकारी है . आभार .
वैसे एक बात कहूँ ...................अगर आप किसी न्यूज़ पेपर या मीडिया हाउस के लिए काम करती तो
एडिटर भी आपकी लेखन शक्ति का क़ायल हो कुर्सी छोड़ भाग जाता और आपसे कहता कि आप ही लिखो
ये बात मैंने इसलिए कही क्योंकि आप बहुत अच्छा, बहुत ही ज़ल्दी लिखती हैं ...आप की नई पोस्ट बहुत
ही ज़ल्दी आ जाती है ..जो कि एक बहुत ही अच्छी बात है . दिव्या जी ये गुण हर किसी के अंदर नहीं होता .
लेकिन आपके अंदर है ..............माँ सरस्वती आप पर अपनी कृपा हमेशा बनाए रखे ..इसी आशा के साथ ....
अगली पोस्ट तक इंतज़ार ......

cmpershad said...

:(

प्रकाश गोविन्द said...

कहावत है :
सोना परखे एक घड़ी
आदमी परखे घड़ी-घड़ी

काश इंसान की फितरत को समझ पाना इतना आसान होता !

वैसे तो ऐसी चीजों से मेरा जन्म-जन्म का छतीस का आंकड़ा रहा है ! इन सबका धुर-विरोधी हूँ ! खैर अभी सिर्फ मूलांक द्वारा आकलन पर एक नजर :
बेहद महत्वाकांक्षी - मदर टेरेसा
संवेदनशील, भावुक - अडोल्फ हिटलर
थोड़े से तानाशाह - स्वामी विवेकानंद
थोडा विद्रोही - सरोजनी नायडू
आशिक मिजाज़ - सरदार भगत सिंह
पैसों तथा भौतिक ऐश्वर्य के प्रति उदासीन- क्वीन एलिज़ाबेथ
अवसरवादी - गुरु नानक
डोमीनेटिंग - राम कृष परमहंस
[उपरोक्त आकलन हास्यास्पद नहीं लगता आपको दिव्या जी ???
देखिये अब मेरा मूलांक बताता रहा है कि मैं धार्मिक हूँ :)))]

अगर आपने ज्योतिष सम्बन्धी पुस्तकें पढ़ी होंगी तो देखा होगा ... ये एक तरह का मनोवैज्ञानिक खेल मात्र है ! अधिकतर चीजें ऐसी हैं जो आप किसी के आगे भी फिट कर दीजिये .....लगेगा हाँ सही आकलन है ..जैसे -
महत्वाकांक्षी, दृढ-निश्चयी, जिद्दी, सौम्य, कल्पनाशील, विचार एवं संवेदनशील, भावुक , अछे परामर्शदाता, एकांत प्रिय , सत्यवादी तथा स्पष्टवक्ता, न्याय एवं अनुशासन प्रिय, स्वाभिमानी, बुद्धिमान, बेहद हिम्मतवाले, जोखिम उठाने वाले, बुद्धिमान, दोस्ताना स्वभाव वाले, मधुर स्वभाव वाले, स्वतंत और मौलिक विचार वाले। परफेक्शनिस्ट , थोड़े जिद्दी, अकेले कार्य करना पसंद

ZEAL said...

.

@ प्रकाश गोविन्द जी,

पृथ्वी पर छेह अरब जनसँख्या के लिए छह अरब विशेषताएं तो नहीं हो नहीं हो सकतीं न । कमोबेश ये गुण सभी में होते हैं । कौन है जो भावुक नहीं ?, कौन है जो तानाशाह नहीं ? कौन है जो महत्वकांशी नहीं ?

जब अरबों लोगों को मात्र नौ गृह प्रभावित कर सकते हैं और समस्त ब्रम्हांड नौ अंकों पर टिका है तो क्यूँ नहीं ये विशेषताएं हर किसी में अल्प या अधिक मात्र में उपस्थित हो सकती हैं ?

सत्व , रज और तम यही तीन तो गुण है। लेकी ६ अरब जनसँख्या में सत्व , रज ,तम कमोबेश है ही । हम सभी तो कहीं न कहीं थोडा गुस्सा रखते हैं , लेकिन आतंकवादी और नक्सलवादी तो नहीं। सभी भावुक हैं, लेकिन भावुकता में जान तो नहीं दे देते । सभी में दया और करुणा भाव होता है, पर हम सब मदर टेरेसा तो नहीं बन सकते न ?

जैसे नास्तिकों को इश्वर पर विश्वास नहीं, वैसे कुछ लोगों को अंक शास्त्र पर नहीं है तो अनोखा क्या है इसमें।

मुझे तो समस्त सृष्टि ही इन नौ अंकों पर टिकी प्रतीत होती है। सिर्फ हमारा ज्ञान सिमित है।

आभार।

.

hem pandey said...

क्या वास्तव में अंक शास्त्र का कोई आधार है ? हालांकि अनेक बार किसी सेलीब्रिटी के जीवन में किसी ख़ास अंक के महत्व के बारे में पढ़ा है | मेरी जन्म तारीख,जन्म माह और जन्म वर्ष सब के अंकों का योग अलग अलग १ होता है | मैंने अपने जीवन की कुछ महत्वपूर्ण बातों से १ अंक का सम्बन्ध पाया है | मेरी शादी के समय मेरी आयु के अंकों का योग १ था | उस वर्ष(ईस्वी सन ) के अंकों का योग भी १ था ( वैसे गणितीय नियम से जिस वर्ष मेरी आयु के अंकों का योग १ होगा उस वर्ष के अंकों का योग भी १ ही होगा, क्योंकि ऐसा संयोग हर नौ वर्ष बाद आयेगा ) | स्वयं का मकान खरीदते समय भी ऐसा ही संयोग था | अन्य कुछ बातों में भी मैंने १ अंक को अपने लिए शुभ पाया है | अंक ज्योतिष में अंकों की मित्रता और शत्रुता भी बताई जाती है | मैंने प्रायः ८ अंक को अपने लिए अशुभ पाया है.| अतः अपने दैनिक व्यवहार में मैं १ अंक को प्राथमिकता देता हूँ और 8 अंक से बचने की कोशिश करता हूँ | इसके बावजूद मुझे अंकज्योतिष का कोई आधार समझ में नहीं आया | आपके लेखों से लगता है कि आपका अध्ययन अच्छा है, यदि इस विषय में प्रकाश डाल सकें तो खुशी होगी |

ZEAL said...

.

महात्मा गाँधी अहिंसा के पुजारी थे। लेकिन बचपन से ऐसे नहीं थे। जब अपनी पत्नी पर उन्होंने हाथ उठाया , उसके बाद हो वो बदल गए। तो हमारे अन्दर कब रज प्रधान होगा और कब सत्व, कुछ कहा नहीं जा सकता।

अंततः यही कहूँगी नौ ग्रहों का प्रभाव हम पर होता है और अंकों का विज्ञान निश्चय ही विश्वसनीय है।

काश मैं aarybhatt जैसी मेधावी होती तो , निश्चय ही इस विज्ञानं के समर्थन में अपनी बात प्रभावी रूप से रख सकती । लेकिन अफ़सोस मैं तो सिर्फ दिव्या हूँ न। ज्ञान सीमित है।

आभार।

.

ZEAL said...

.

मुझे दुनिया की कोई भी विधा या विज्ञान हास्यास्प्रद नहीं लगता । मूलांक के आधार पर मोटा- मोटा समझा जा सकता है किसी के भी व्यक्तिव को । वैसे भी मनुष्य निरंतर बदलता रहता है। जो विशेषताएं आज उस पर सही नहीं हैं , वो आगे चलकर उस पर लागु हो जायेंगी, समय बलवान होता है।

.

ZEAL said...

.

महत्वाकांक्षा न हो तो व्यक्ति कभी आगे ही नहीं बढेगा। गाँधी जी ने महत्वाकांक्षा के चलते ही इनता ज्ञानार्जन किया, ज्ञान से ही उनके अन्दर दुसरे के दुःख दर्द समझने की करुणा जगी। फिर गुलामी के खिलाफ विद्रोह जगा।

नेताजी भी महत्वाकांक्षा के चलते आई इ एस बने। उनके ज्ञान और विद्या ने उन्हें समाज की गुलामी का बोध कराया और वो भी समाज सेवक बने। व्यक्ति जब थोडा ऊपर उठ जाता है तो वह स्वयं के बारे में छोड़कर एक बड़े समुदाय के हित के लिए सोचने लगता है।

यहाँ महत्व कांक्षा सबमें है, फिर करुणा सबमें है, चाहे वो किसी भी अंक का हो , नेताजी, विवेकानंद, अथवा मदर टेरेसा।

लेकिन समाज सेवा का तरीका सबका बिलकुल अलग अलग है, क्यूंकि अंक, ग्रह , परिस्थियां, परिवेश हमें बिण भिन्न व्यक्तित्व देते हैं।

.

ZEAL said...

.

हेम पाण्डेय जी,

अंकों में बहुत विश्वास रखती हूँ। मेरा जन्म ११ जुलाई का है। मेरी जिंदगी में ११ की संख्या हमेशा ही शुभ रही।

हाई स्कूल , इंटर , मेडिकल का रिजल्ट , मेरा विवाह और पहली विदेश यात्रा , सभी ११ जुलाई को ही हुए। [और सब शुभ ही रहा मेरे जीवन में ]

.

ZEAL said...

.

"Indian Numerology" gives striking descriptions of the character and destiny of people based on their birth date. It explains how to determine the psychic number, name number, and destiny number; how these numbers relate to each of the nine planets, and how they apply to every aspect of life - including personality, temperament, intelligence, talents, sexuality, spirituality, finances, travel, and health. "Indian Numerology" gives recommendations regarding strong and weak periods of day or year, favorable colors and precious stones to be worn, and meditations and mantras to be practiced for health and prosperity. "Indian Numerology" also illustrates the Vedic Square and the visual patterns that can be derived from it, casting a revealing light on the more esoteric interpretations of numbers and their relationship to one another.

.

मनोज कुमार said...

@ इस अंक की मशहूर हस्तियाँ--मदन मोहन मालवीय, कुईं एलिज़ाबेथ चार्ल्स डिकेंस, मेरी क्युरी, गोविन्द रानाडे।
एक नाम तो आपने छोड़ ही दिया। मनोज कुमार।
अरे भारत कुमार वाला नहीं, पर हस्ती तो है, मशहूर नहीं है तो क्या हुआ?
मेरा अंक ज्योतिष पर काफ़ी विश्वास है। २५ है जन्म तिथि। समझिए, और हमें भी समझाइए।

mahendra verma said...

आभार।

ZEAL said...

.

मनोज जी ,

आप का मूलांक है ७ है। सात अंक वाले बहुत ही मैगनेटिक व्यक्तित्व वाले होते हैं। हर किसी को अपनी ओर आकर्षित कर लेते हैं। १ , २, ४, ७ आपस में मित्र अंक हैं।

खूब गुजरेगी जब मिल बैठेंगे दीवाने दो ।

.

सतीश सक्सेना said...

अंको का यह गणित रहस्यमय है और कई बार मुझे महसूस हुआ कि ४ का अंक मेरे जीवंन में बार बार आता है , मेरा अपना अंक ८ है जब जब मैं ४ तारीख से बचना चाहता हूँ महत्वपूर्ण घटना उसी दिनांक को घटती है और अविश्वास के बावजूद, भी मानना पड़ता है !
शुभकामनायें डॉ दिव्या !

प्रकाश गोविन्द said...

दिव्या जी आप बहुत कन्फ्यूज हैं !
जब आप स्वयं ही कह रही हैं कि - "कमोबेश ये गुण सभी में होते हैं । कौन है जो भावुक नहीं ?, कौन है जो तानाशाह नहीं ? कौन है जो महत्वकांशी नहीं ?"
तो डिवीजन किस बात का ???

रही बात शुभ दिन की तो जब कोई ख़ास दिन हमारे मस्तिष्क में पहले से छाया रहता है तो वह दिन याद रहता है ...बाकी अच्छे दिन याद नहीं रहते ! 11 का अंक आपके लिए शुभ रहा तो क्या बाकी के दिन शुभ नहीं रहे ?

ZEAL said...

.

सतीश जी,

एक बात बता दूँ, आठ का अंक जीवन में बहुत उठा-पटक करवाता है। चैन से कभी जीने नहीं देता। जितना कष्ट आठ अंक वाले झेलते हैं, शायद ही किसी अंक वाला झेलता हो।

एक जरूरी बात--

हर अंक वाले के लिए उसके मूलांक की तिथि बहुत शुभ होती है , लेकिन इसके विपरीत आठ और चार मूलांक वालों को अपने अपने मूलांक ४ और ८ वाली तिथियों से बचना चाहिए। ये उनके लिए शुभ नहीं है।

.

उपेन्द्र " the invincible warrior " said...

मेरा मूलांक 4 है व मेरे बाते हमेशा सच होती है इसके हिसाब से..... आभार

मनोज कुमार said...

हमें तो लगता है कि केतु के कारण हम बहुत भावुक और पैसों तथा भौतिक ऐश्वर्य के प्रति उदासीन , जिद्दी तो बिल्कुल ही नहीं, पर हां अकेले कार्य करना पसंद करते हैं, जब कोई साथ न दे तब भी। और गा लेता हूं, जोदि केऊ तोहर डाक शुने ना आशे तोबे एकला चलो रे।

ZEAL said...

.

प्रकाश जी,

अपनी सामर्थ्य के अनुसार अपनी बात रख रही हूँ। ज्ञान सीमित होने के कारण ज्यादा कुछ नहीं कह सकती। मेरी अज्ञानता को क्षमा कीजिये।

यदि आपको लगता है की मैं कन्फ्यूज्ड हूँ, तो निश्चित ही आप सही होंगे। अधिक क्या कहूँ।

.

मनोज कुमार said...

भावुक तो सब होते हैं, पर इसकी मात्रा अंको के प्रभाव के कारण कम अधिक होती है।

ZEAL said...

.

मनोज जी,

मेरी बड़ी बहन का भी मूलांक ७ है , उन्हें हमेशा ही पैसे और भौतिक ऐश्वर्य के प्रति उदासीन पाया। यदि कोई उन्हें १० हज़ार रुपार एक दिन सँभालने को दे दे , तो वो भी डूबा समझिये। वो कब किसे क्या दान कर देंगी, पता नहीं।

.

मनोज कुमार said...

अब पसीना तो सबको निकलता है
पर ७ अंक वालों को केतु के प्रभाव के कारण अधिक बहुत अधिक निकलता है।

ZEAL said...

.

हा हा हा ...मनोज जी...बढ़िया उदहारण दिया कमोबेश गुणों का।

.

मनोज कुमार said...

@ कोई उन्हें १० हज़ार रुपार एक दिन सँभालने को दे दे , तो वो भी डूबा समझिये। वो कब किसे क्या दान कर देंगी, पता नहीं।
बिल्कुल सहमत।

Ejaz Ul Haq said...

Love wants no wall - जहां मिट गई है मंदिर-मस्जिद के बीच की दीवारमेरे ब्लॉग पर पढ़ें

ZEAL said...

.

एजाज़ उल हक भाई...आप दो शब्द हमारी पोस्ट पर तो लिखते नहीं, केवल अपना विज्ञापन देने आजाते हैं...कृपया हमारी पोस्ट पर विज्ञापन देने का किराया तो भुगतान कर दीजिये।

.

ZEAL said...

.

मनोज जी ,

आप के खेमे के अटल बिहारी बाजपेयी जी भी हैं। निर्विकार और लालच से कोसों दूर।

.

डा० अमर कुमार said...
This comment has been removed by the author.
ZEAL said...

डॉ अमर ,

यदि एक जुलाई मानूँ , तो श्रावण कॉमन है, यदि २९ मानूँ तो मूलांक २ कॉमन है , यदि १ taareekh मानूँ , तो डबल १ कॉमन है । वैसे भी १, २, ४, ७, मित्र अंक हैं, खूब गुजरेगी अदरक की चाय पर जब मिल बैठेंगे केंसरियन [Cancerian ]दो !

.

शरद कोकास said...

अपनी अपनी मान्यता है ।

दीर्घतमा said...

मेरा जन्म तिथि १-१-१९६१ है मुल्यांक पता नहीं है कृपया बताये ?

Udan Tashtari said...

१ ही है मूलांक तो...यहाँ पढ़कर खुद पर जरा गर्व हुआ. :)

Apanatva said...

interesting post.
Aabhar

संगीता पुरी said...

19 जन्‍मतारीख होने से मेरा भी मूलांक 1 ही है.. यहां लिखी बातें मेरे व्‍यक्त्वि से मिलती है .. पर ज्‍योतिष में रिसर्च के बाद निष्‍कर्ष इतने सूक्ष्‍म आने लगे कि न्‍यूमरोलोजी स्‍थूल लगने लगी .. महत्‍वाकांक्षा का भी डिविजन होना चाहिए .. पैसे कमाने की, राज करने की , ज्ञानार्जन करने की, दुनिया के जीवनशैली को बदलने की .. इसकी जानकारी भी तो आवश्‍यक है .. जैसे कि मेरे बारे में जिद्दी लिखा गया .. मैं अपने सिद्धांतों पर अटल रहती हूं .. बाकी सभी जगह काम्‍प्रोमाइज करने में कोई कठिनाई नहीं पाती !!

चला बिहारी ब्लॉगर बनने said...

लोग दू नम्बरी होता है..हम तीन नम्बरी हैं..12 तारीख.. मगर कोई गुण नहीं है हम में!!

ZEAL said...

.

दीर्घतमा जी,

आपका मूलांक १ है। अत्यंत शुभ है।

सूर्य से संचालित होने के कारण १ अंक वालों को अलग ही पहचान और स्थान मिलता है।

.

ZEAL said...

.

सलिल जी,
कृपया अपनी विशिष्ट विशेषताओं का उल्लेख करें । देखें तो आपको किन-किन अंकों के मिश्रित गुण प्राप्त हैं।


संगीता जी,
एक अंक , तथा सूर्य से संचालित होने के कारण ही ज्योतिष में आपको महारथ हासिल हो रही है,।


समीर लाल जी,
निश्चय ही गर्व होना चाहिए। सूर्य जो यश दिलाता है वो आसानी से नहीं कोई एनी ग्रह , नहीं दिला सकते।

.

ZEAL said...

.

वीरेंदर सिंह चौहान जी,

आपके सुन्दर शब्द मेरे लिए मरुस्थल में , स्वाति बूँद की तरह हैं। आपकी उदारता से मन कृतज्ञ है आपका ...आपका बहुत बहुत आभार।

.

ZEAL said...

.

@ Arth Desai-

@ Ashish-

Many happy returns of the day.

" HAPPY BIRTHDAY "

आप जियो हज़ारों साल, साल के दिन हों पचास हज़ार ।

..

Mrs. Asha Joglekar said...

अच्छी जानकारी . मेरा मूलांक 6 है । अपने बारे में भी जान लिया और औरों के भी ।

ZEAL said...

.

आशा जी,

छह अंक वाले, बहुत मधुर स्वभाव वाले होते हैं। आप इस बात को चरितार्थ करती हैं।

.

ashish said...

दिव्या जी
बहुत धन्यवाद आपका जन्मदिन की शुभकामनाओ के लिए .

ethereal_infinia said...

Dearest ZEAL:

A birthday is a win-win situation for both Life and Death.

Life zmiles at having crossed one more landmark as it holds its fort against death.

Death zmiles knowing this is one more step closer for me to it.

As to the wishes of 'jiyo hazaaro saal', that I humbly pass on to 'Raam Lallaa Biraajmaan". He may rule 11000 years [as read in your earlier post]. Zmiles.

I seek a life of 88 years and that is suffice. You have been magnanimous in wishing me much more than that. Thank you.


Arth Desai

यशवन्त माथुर said...

आप सभी को हम सब की ओर से नवरात्र की ढेर सारी शुभ कामनाएं.

sanjay said...

apni to 26 hai.....matlab 2+6= 8 aur khare hain
satish bhaisahab ke saath...

aapne jo likha oosko manna na manna alag baat hai... lekin ye satya hai ke .... aisa hota hai...

bakiya jisko jitna gyan-kalash mila....ysa oosko
hai dikhta...

maliferious blloger ... hats off to yo ...

pranam.

ZEAL said...

.

@- Arth Desai--

That was just a beautiful gesture to wish someone a happy long life. Anyways..

.

ZEAL said...

.

यशवंत--आपको भी और सभी को नवरात्री की शुभकामनाएं।

.

ZEAL said...

.

संजय जी,
एक बात तो निश्चित हो गयी की ब्लॉग जगत में ८ अंक वाले सबसे ज्यादा हैं। लेकिन दो-नम्बरी कहाँ हैं भाई ?.... क्या दो अंक वाले शर्माते ज्यादा हैं ?

.

Shekhar Suman said...

अरे वाह मेरे मूलांक ७ की तो काफी चर्चा हुई है यहाँ , चलिए मनोज की बहाने काफी बातें पता चली....
जहाँ तक है भौतिक सुख की बात तो मेरे लिए भी यही सत्य है }
आपको नवरात्र की ढेर सारी शुभकामनाएं....

Ankit.....................the real scholar said...

दिव्या मैम ,
मेरा तो मूलांक ९ है परन्तु आपका नहीं दिख रहा है ?

खैर वैसे भी इस बात से कुछ फर्क नहीं पड़ता है | हम अभी तक आपसे बहुत कुछ सीखते रहे हैं और अब तो ज्योतिष भी सीखने को मिलेगी |

G Vishwanath said...

टंकन त्रुटि सुधार:
मूलांक ५ की तिथियाँ ५, १४ और २३ होनी चाहिए.
१४ के स्थान पर १५ लिखा है
शुभकामनाएं
जी विश्वनाथ

ZEAL said...

.

.

@-Ankit,

11th July

My spirit number is '2'.

mulaank- 11=1+1=2

.

ZEAL said...

.

Vishwanath ji,

Thanks for pointing out the error. I rectified it.

Regards.

.

बिग बॉस said...

achhi jankari

प्रकाश गोविन्द said...

यह सदा सदा का सदाबहार विषय है
एजुकेशनल डिग्री और समझदारी का आपस में कोई कनेक्शन नहीं होता !
-
-
दिव्या जी आपका यह आकलन मैंने अभी देखा -
"आठ का अंक जीवन में बहुत उठा-पटक करवाता है। चैन से कभी जीने नहीं देता। जितना कष्ट आठ अंक वाले झेलते हैं, शायद ही किसी अंक वाला झेलता हो।"

क्या कहूँ इसको पढ़कर :))

मेरा अंक भी आठ ही है ! जीवन में उठा-पटक तो आज तक महसूस नही किया हाँ ,,, मस्ती ही मेरी पहचान रही है ! इस बात की गवाही तो तमाम लोग जो मुझे जानते हैं .....वो भी दे देंगे ! इससे ज्यादा स्वयं के बारे में कुछ कहना आत्मप्रशंसा ही कहलाएगी ! बस इतना अवश्य कहूँगा कि आज तक तो अपनी मर्जी की जिंदगी ही जी है ! जिस चीज का सपना आम इंसान देखता है, वो सब मेरे पैदा होने से पहले ही मेरे पास था ! ये सब सिर्फ इसलिए कह रहा हूँ ताकि आपका भ्रम टूट सके !
-
-
यह भी आभास हो रहा है कि देश के सारा बाबा, ज्योतिषी, तांत्रिक और उनके आश्रम क्यों हाउस फुल रहते हैं !
हाय रे...... ये तर्क विरोधी समाज ...उफ़ !
मैं बेकार में ही टीवी चैनल्स देखकर आज तक कुढ़ता रहा !
लेकिन मैं गलत था !
ये साई रक्षा कवच, शनि निवारण यन्त्र, नजर रक्षा यन्त्र, ज्योतिष, तंत्र-मंत्र, रत्न, ताबीज, टोना-टोटका ........ बेशुमार ग्राहक हैं ....... ये बाजार कभी नहीं ख़त्म हो सकता ....कभी नहीं !

बहरहाल बहुत-बहुत बधाई इस सुपर-डुपर हिट पोस्ट के लिए :))

ZEAL said...

.

प्रकाश गोविन्द जी,

ज्यादा तो नहीं जानती , लेकिन जितने आठ नंबर वालों को करीब से जानती हूँ , उनके आधार पर यही कह सकती हूँ की आठ अंक वाले व्यक्ति का जीवन सामान्य से भिन्न ही होता है। शनि गृह से संचालित ये अंक या तो बहुत ऊँचाइयों को छूता है या फिर बहुत कष्ट से जीता है। अक्सर एक्सट्रीम पर ही होता इनका जीवन। बीच की स्थिति कम ही होती हैं इनके जीवन में। वैसे ज्यादा तो आठ अंक वाले ही बता सकेंगे।

और एक बात- प्रत्येक अंक से जुडी बातें, पृथ्वी के एक बटा नौ लोगों के लिए हैं , हर एक पर सही कैसे उतर सकती हैं ? हर अंक के बहुत से अपवाद मिलेंगे। आपने जो अपने बारे में बताया वह जानकार ख़ुशी हुई। सदा मस्त और प्रसन्न रहिये।

रही बात पोस्ट के हिट होने की, तो वह तो व्यर्थ है। जब तक एक व्यक्ति , अपने देश और समाज के लिए कुछ कर न कर सके , तो उसका पूरा जीवन ही व्यर्थ है।

.

मनोज कुमार said...

दिव्या जी,
आया था फिर से, नवरात्रा की शुभकामनाएं देने।
और हां, मुझे तो रक्षा कवच, शनि निवारण यन्त्र, नजर रक्षा यन्त्र, ज्योतिष, तंत्र-मंत्र, रत्न, ताबीज, टोना-टोटका सब पर विश्‍वास है। अंक ज्योतिष पर तो है ही। सब पढने के बाद। यह भी एक विज्ञान है। यह मानता हूं। और आज से तंत्र साधना भी करूंगा। नवरात्रि में उसका विशेष महत्व है। जो विज्ञान इस देश में सदियों से चला आ रहा है, उसे यूं नकारा नहीं जा सकता। आपका क्या सोचना है?

ZEAL said...

.

प्रकाश गोविन्द जी,

किसी विषय पर चर्चा करने से दिव्या किसी बाबा, स्वामी या ओझा की श्रेणी में नहीं आ जाती। मुझे दुनिया के हर विषय आकर्षित करते हैं। जब हम दूसरों को सुनते ज्यादा और कहते कम हैं तो हम सीखते हैं। लेकिन जब हम तर्क दर तर्क किसी की बात का खंडन करते हैं तो हमारे पास उतना ही ज्ञान शेष रहता है, जितना पहले था। कुछ इजाफा नहीं होता।

आपकी लघु कहानियां पढ़ीं, कुछ सीखा ही है वहां। उसके लिए आपको आभार यहाँ भी दे देती हूँ। तर्क करना सबसे आसान होता है। लेकिन कभी कभी हमें अपने आप से तर्क करना चाहिए की आखिर सामने वाला इतनी निश्चितता से ऐसा कह रहा तो कोई वजह या अनुभव तो होगा ही।

जब हम खुद के विश्वास और मान्यताओं के साथ तर्क करते हैं तो हम बहुत कुछ सीखते हैं। मैं अक्सर ऐसा ही करती हूँ।

बाजार के यंत्र , मन्त्र को कभी जांचा ही नहीं, इसलिए उस पर कमेन्ट नहीं करुँगी। हर परेशानी में अपने विवेक का इस्तेमाल किया है, किसी यंत्र के भरोसे नहीं रही।

आपके तर्कों पर विचार करुँगी।

आभार।

.

ZEAL said...

.
मनोज जी,

आपसे सहमत हूँ। सभी यंत्र अंकों के गणित पर ही आधारित हैं। ख़ास कर मेडिटेशन के लिए ये बहुत सहायक हैं।

.

ZEAL said...

.

Yantra magic squares are magic squares built using your date of birth, and your Life Path number as the top row of the square. They are powerful good luck charms for the person they are constructed for. But, they don’t necessarily attract wealth and riches to the person.

Eight - The Money Number

In numerology as well as other physic disciplines, eight is associated with money and riches. To specifically attract more money to a person, One can construct a magic square talisman where the rows and columns sum to a number which reduces to (8) using fadic addition. The numbers: 26, 35, 44, 53, 62, 71, 80, 98, and 107 all have this properity.

So, in order to create talisman, we start with someone’s Yantra magic square, and then change the last box in the top row from their Life Path number, to a number which produces a square where the rows sum to (8).

.

ZEAL said...

.

बाजार में जो भी यंत्र मिलता/बिकता है, उसके पीछे विज्ञान है। हाँ , जो बात बुरी लगती है -वो है उसका बाजारीकरण। जनता को मुर्ख बनाकर अधिक पैसे वसूलना। लेकिन वो विषयांतर है। यहाँ तो अंक विज्ञान की चर्चा है।

.

प्रतुल वशिष्ठ said...

मैं नवम्बर चार का.
दिवस में गुरुवार का.
उन्नीस-इकहत्तर वर्ष से
मिलती नहीं उद्धारिका.

ZEAL said...

.

प्रतुल जी,

चार और आठ अंक वालों की विशेषता पढ़िए...उसमें लिखा है वो थोड़े से रेबेल [विद्रोही] स्वभाव के होते हैं। हर बात के विपरीत ही सोचना उनके व्यक्तित्व का हिस्सा होता है।

आभार।

.

प्रकाश गोविन्द said...

'मेडिटेशन' मेरी जिंदगी का अभिन्न अंग है !
नयी जानकारी मिली
आभार
-
-
ब्लॉग में बहस ...वाद-विवाद बहुत पहले ही बंद कर चुका हूँ !
आप अपनी बिरादरी की लगीं ,,, अपनापन सा लगा तो मन के विचार साझा कर लिए !

बहरहाल
स्टाम्प पेपर पर सरेंडर करूँ या मुंह जुबानी से काम चलेगा :)
-
-
मनोज जी देश में सदियों से तो क्या-क्या होता आया है ...क्यों हमने उनकी पूंछ छोड़ दी ? क्या उन पुरातन बातों की लिस्ट दूँ आपको ?

ZEAL said...

.

प्रकाश गोविन्द जी,

सरेंडर मत कीजिये। मन में आने वाले हर विचार को साझा कीजिये। --निवेदन है।

और हाँ आपकी बिरादरी की हूँ, इसमें कोई दो राय नहीं है। जल्दबाजी में निर्णय मत लीजिये।

कठिन है राह बहुत थोड़ी दूर साथ चलो,
कठिन है राहगुज़र, जो चल सको तो चलो।

आभार।

.

निशांत मिश्र - Nishant Mishra said...

मैं तो पक्का एक नम्बरी हूँ जी. आपका नंबर क्या है?

संगीता पुरी said...

कालिदास ने कहा था ....

पुराणमित्येव न साधु सर्वं न चापि नवमित्यवद्यम् |
सन्तः परीक्ष्यान्यतरद्भजन्ते मूढः परप्रत्ययनेयबुद्धिः ||
अर्थात न पुरानी होने से सबकुछ बुरा है .. न नया होने से सबकुछ अच्‍छा .. बुद्धिहीन दूसरों की बुद्धि से चलते हैं .. जबकि बुद्धिमान परीक्षा करते हुए।



मेरा यह मानना है कि जबतक दुनिया में दो प्रकार के लोग बने रहेंगे .. यानि एक नए को ही अच्‍छा कहता रहे और एक पुराने को ही .. दोनो बुद्धिहीन की श्रेणी में दुनिया की खुशहाली ढूंढने में असमर्थ रहेंगे .. क्‍यूंकि बुद्धिमान दोनो के मध्‍य का रास्‍ता निकालने की कोशिश करता है .. ताकि संसार का कल्‍याण किया जा सके!!

ZEAL said...

.

निशांत जी,

हम तो पक्के दो-नम्बरी हैं।

.

ZEAL said...

.

@-क्‍यूंकि बुद्धिमान दोनो के मध्‍य का रास्‍ता निकालने की कोशिश करता है ॥ ताकि संसार का कल्‍याण किया जा सके!!

संगीता जी,

बिलकुल सही कहा आपने। विचारणीय।

.

shikha varshney said...

अपना मुल्यांक तो २ है बाकी तो ठीक लगा पर "इनमें नेतृत्त्व का अद्भुत गुण होता है"।शायद कहीं छुपा हो :) अब खोज के देखेंगे :)

ZEAL said...

.

चलिए, दो अंक वालों का खाता खुला---धन्यवाद शिखा जी।

.

Vijai Mathur said...

Vad-vivad me parna nahi,balki JYOTISH VIGYAN hai is bare me kuch kahna hai :-
JYOTISH - MANAV JIVAN KO SUNDER ,SUKHAD AUR SAMRIDH banane ka marg batata hai.JO mane ,jo na mane sab per GRAHON ka prabhav saman roop se parta hai.
Bazaru Yantras aadi vyarth hai-sirf paisa funkne ka shauk hai voh.Dhongi aur Pakhandi Ultey Ustrey se Janta ko moodhtey hai uske liye JANTA SWAIM UTTARDAYEE HAI.Jis prakar Gresham ke niyam me ACHI MUDRA KO KHARAB MUDRA CHALAN SE BAHAR KAR DETI HAI usi prakar JYOTISH ME bhi
kharab log chamak jatey hain aur sachey sadhak dhakkey khatey hain .mai bar -2 apne krantiswar me logon ko aagah karta rahta hun.JYOTISH AUR HAM,evam DHONG ,PAKHAND AUR JYOTISH -posts me bebak likh chuka hun.
ZOOLOGY ke H.O.D.,B.P.C.ke class -1 officer,U.P.S.I.D.C.ke Exn.Engr. merey client rahey hain aur sabhi labhanvit hue hain.Yahan tak ki merey bataye Mantras aur Hawan apna kar
Segerian se bach kar normal delevery bhi sambhav hui hai.

पं.डी.के.शर्मा"वत्स" said...

अंकविद्या के महत्व को हम तो स्वीकार करते है...
वैसे हमारा मूलाँक 7 बनता है...

Ankit.....................the real scholar said...

Meri janm tithi 27 hai to moolank 9

डा.रूपेश श्रीवास्तव(Dr.Rupesh Shrivastava) said...

प्रिय बहन, सत्य वही होता है जिसे हम मानते हैं जिसे मानते ही नहीं वह सत्य कैसे हो सकता है चाहे वह व्यक्तिगत हो या सार्वभौम...। मुंबई में तत्वज्ञान के एक सेमिनार में बुलाया गया था वहां देखा कि दर्शन शास्त्र, भाषा, बायोटेक्नोलाजी,संगीत,गणित आदि विषयों के विद्वान आमंत्रित थे। अब इनमें आपसे में तानाबाना जोड़ने के लिये विमर्श चाहिये विवाद नहीं; विषयवस्तु थी अणुजीवन जिसके केन्द्र में था श्री श्री आनंदमूर्ति जी का आनंदसूत्रम।
अच्छा आलेख है जिसे समीक्षा/आलोचना/प्रंशसा करनी हो उनका स्वागत करिये। तमाम विषय लोगों को वर्तमान विज्ञान के दायरे से बाहर और छू-मंतर छाप जान पड़ते हैं जैसे कि मेरा शोध विषय था "Biological transmutation and ayurvediya padaarth vijnyan.
न किसी की कोई सहमति रही और न ही सहयोग सभी वरिष्ठों ने कहा संदर्भ कहां से लाओगे??
आप मानती हैं तो सत्य है वरना असत्य। मेरा मूलांक सात है और कर्कराशि हूं।
हृदय से प्रेम सहित
भइया

Babli said...

बहुत बढ़िया और दिलचस्प पोस्ट!
आपको एवं आपके परिवार को नवरात्री की हार्दिक शुभकामनायें!

Vijai Mathur said...

Jahan tak numerology ka sawal hai ki kisi ko sahi laga kisi ko nahin iska karan adhura adhdhyan raha hai.Mulank aur bhagyank nikalney ki vidhi lekhika ney samjhai hai tatha namank ka bhi zikr kara hai,in 3 prakar ke ankon ka sammilit prabhav padta hai,kisi ek sey dekhengey to sabhi baten kaisey milengi?Puri bat samjhey bagair katach karney se apni Agyanta darshana hai.
Example:- aaj jiska janam hoga uska Mlank to 8hoga parantu Bhagyank hoga :-
8.10.2010=8+10+2010=12=3 arthat 3 bhagyank aur 8 mulank ko to dhyan rakhen halanki Nam key Achchar bhi ankon mey badal kar unka bhi prabhav dekha jata hai.
Emergecy ke dauran mai i.T.C.Hotel Mughal me Supervisor Accounts tha aur numrology shauk.Maney Indira Gandhi,Sanjay Gandhi aur M.p.Seth Achal Singh ke HARNEY evam Morarji ke P.M. banney ki bat kah di thi kewal Numrology ke aadhar per,sathi aur adhikari sab pareshan the ki kahi merey chakkar me emergency ke fandde me sab na lapet liye jayen.Maine nishchint rahney ko kaha -Chunav Parinamon ney SAHI sabit kar diya.Isliye dhairyapurvak bat ko samajh kar sabhi logon ko faida uthana chahiye aur Free Service provide karney hetu Dr.Diviya ko THANKS dena chahiye.

संगीता पुरी said...

Jis prakar Gresham ke niyam me ACHI MUDRA KO KHARAB MUDRA CHALAN SE BAHAR KAR DETI HAI usi prakar JYOTISH ME bhi
kharab log chamak jatey hain aur sachey sadhak dhakkey khatey hain .

विजय माथुर जी की बातों से पूर्ण सहमत !!

ZEAL said...

.

विजय जी,

आपका आभार ।

ये बात ऊपर भी लिखी थी, पुनः लिख रही हूँ। अंग्रजी अंक शास्त्र के अनुसार सिर्फ मूलांक से ही गणना करते हैं जबकि भारतीय अंक ज्योतिष में, मूलांक, भाग्य अंक तथा नाम-अंक से सम्मलित गणना करते हैं।

आज जिसका जन्म दिन है , उदाहरण- [८ अक्टूबर २०१० ] -उसका ,

1-Psychic number-मूलांक है- ८
2-Destiny number-भाग्य अंक है- [८+१०+2०१० =८+१+२+१=१२=१+२=३ ]--३
3-Name number-नाम अंक - एक ही व्यक्ति के अधिक नाम हैं तो नाम अंक एक से ज्यादा हो सकते हैं।

.

संगीता पुरी said...

डॉ रूपेश श्रीवास्‍तव जी भी सही कह रहे हैं सत्य वही होता है जिसे हम मानते हैं जिसे मानते ही नहीं वह सत्य कैसे हो सकता है कई जटिल बीमारियों के इलाज नहीं होने के बावजजूद भी डॉक्‍टर का ज्ञान सत्‍य है .. क्‍यूंकि इसकी पढाई के लिए टैलेंट के बल पर किसी का दाखिला होता है .. सरकार द्वारा उसके पीछे लाखों करोडों खर्च होता है .. दुनिया भर के रिसर्च होते हैं .. सरकारी तनख्‍वाह के भरोसे या लोगों के विश्‍वास के भरोसे जीवनभर एक डॉक्‍टर के सामाजिक स्‍टेटस के बढते जाने की उम्‍मीद है .. पर परंपरागत विज्ञान और उनके नियमों को एक सिरे से नकार दिया गया है .. उनके विकास के लिए न तो प्रतिभा और न ही खर्च हो रहा है उस ओर .. जिसका जीवन सामान्‍य तौर पर चलता रहता है उसके लिए तो प्राकृतिक नियम एक पहेली ही हैं .. पर जिनके जीवन में गंभीर विपत्ति आती है .. वे इसा कोई कारण नहीं ढूंढ पाते .. लोग दौडेंगे ही नीम हकीम खतरे जान ज्‍योतिषियों के पास .. जबतक विज्ञान उस ज्ञान तक पहुंचेगा कि ग्रहों या अन्‍य प्राकृतिक नियमों का प्रभाव हमपर पडता है .. और जबतक ग्रहों के पृथ्‍वी के जड चेतन पर पडनेवाले सही स्‍वरूप की विवेचना नहीं होगी .. तबतक दुनियाभर में अंधविश्‍वास फैलने से रोका ही नहीं जा सकता !!

ZEAL said...

.

* अंक २, ४ , और ८ को सिरीज़ नंबर कहते हैं । जैसे ३, ६ और ९ भी सिरीज़ नंबर हैं।
*

* अंक आठ , २ का तीन गुना होने के कारण , अंक दो पर हावी रहता है, जिसके कारण अंक दो वाले व्यक्ति अंक ८ की उपस्थिति में असहज रहते हैं।
*

* अंक २ और ४ मित्र संख्या हैं।

* अंक २, और ४ वाले बहुधा अंतर्मुखी होते हैं।

.

ZEAL said...

.

भाई, डॉ रुपेश ,

अंक ७ होने के कारण , निश्चय ही आपका व्यक्तित्व बेहद मेग्नेटिक होगा । अंक ५ के बाद , सबसे लोकप्रिय अंक ७ ही है।

आपके शोध का विषय बहुत अच्छा लगा। कुछ और जानकारी दें तो अच्छा लगेगा।


संगीता जी,

आपने बहुत अच्छी तरह से बात को समझाया है। ---जबतक विज्ञान उस ज्ञान तक पहुंचेगा कि ग्रहों या अन्‍य प्राकृतिक नियमों का प्रभाव हमपर पडता है .. और जबतक ग्रहों के पृथ्‍वी के जड चेतन पर पडनेवाले सही स्‍वरूप की विवेचना नहीं होगी .. तबतक दुनियाभर में अंधविश्‍वास फैलने से रोका ही नहीं जा सकता !!

..

सम्वेदना के स्वर said...

कल पूरा दिन चंड़ीगढ़ से बहुत दूर गुरुदासपुर में बीता तो आपके इस मजेदार ज्ञान से दो चार होने में वक्त लग गया!

अपना नम्बर 23 यानि 5 हैं! परंतु जब ज्योतिष का विधिवत अद्ध्यन किया, भारतीय विधा भवन, नई दिल्ली में तब से यही जाना कि अंकशास्त्र एक उथला शास्त्र है। ज्योतिष के सामने तो कुछ भी नहीं! इस बात पर एक पोस्ट लिखकर आपसे फिर बतियायेंगें।

-चैतन्य

Ganesh said...

Hey Zeal Dear...My home number adds up to 12 = 2+1=3. Is this a good number? My b'day and month also adds up to 3. Please let me know. Thanks in advance :)

ZEAL said...

.

Hi Ganesh,

Nice to see your comment. Number 3 is ruled by Jupiter , hence they easily avail top positions in any sphere. They are very ambitious but a little aggressive as well. Very independent and individualistic in nature.

.

Ganesh said...

Thanks Zeal. So, I have to pray Lord Jupiter to strengethen my position...Yea, I am ambitious, independent and somtimes individualistic...but cant say am agressive, rather timid..in nature..but full of Love and compassion..and many times i find myself at the receiving end..
But hey Zeal, your prompt reply to my query is much appreciated.. With Love

Anu Singh said...

ये तो मज़ेदार जानकारी थी। ये बात अलग है कि मुझे सब मूलांकों में थोड़ा-थोड़ा अपना कुछ नज़र आता है। :)
लेकिन ये कमाल की बात है कि मेरे हर अहम काम में मेरा मूलांक किसी ना किसी रूप में मौजूद रहता है, unintentionally ही सही। मेरा मूलांक 9 है वैसे। जानकारी के लिए शुक्रिया।

ZEAL said...

.

प्रिय अनु,

९ मूलांक वाले तो बेहद कर्मठ , दयालु एवं सर्वत्र विजयी होते हैं। मंगल गृह के स्वामित्व में यह अंक , सबसे शक्तिशाली अंक होता है। ३, ६, ९ आपके मित्र अंक हैं।

.

कविता रावत said...

बहुत ज्ञानवर्धक आलेख.. आभार
आपको और आपके परिवार को नवरात्र की हार्दिक शुभ कामनाएं

Ankit.....................the real scholar said...

"९ मूलांक वाले तो बेहद कर्मठ , दयालु एवं सर्वत्र विजयी होते हैं। मंगल गृह के स्वामित्व में यह अंक , सबसे शक्तिशाली अंक होता है। ३, ६, ९ आपके मित्र अंक हैं। "
" ३, ६, ९ आपके मित्र अंक हैं। "
iska real world meaning kya hai ?
matlab iska real world me kit tarah se labh liya jaa sakta hai

ANd ye divya MAM, Happy Birthday

(bairth DAY not month)

ZEAL said...

.

अंकित जी,

इस जानकारी का लाभ निम्न प्रकार से पा सकते हैं-

१- मोबाइल नंबर अथवा अपने वाहन के लिए अनुकूल नंबर का चूनाव कर सकते हैं।
२- किसी भी ख़ास आयोजन के लिए अपने मूलांक वाली तिथि तथा मित्र अंकों का उपयोग कर सकते हैं।
३- जिस अंक का जो अनुकूल दिन है , उस दिन को प्राथमिकता दें।
४- अपने मूलांक के लिए शुभ रत्न धारण कर सकते हैं।
५- सबसे बड़ी बात आप जिस व्यक्ति से मुखातिब हैं, उस व्यक्ति को थोडा बहुत आप उसके मूलांक के अनुसार जान सकते हैं। और उसके अनुसार उसके साथ पेश आ सकते हैं। जैसे संवेदनशील व्यक्ति से बहुत संभल के, भावुक व्यक्ति से कोमलता के साथ, तथा स्वतंत्र विचारों वालों को कभी राय न दें... इत्यादि।

.

Shekhar Suman said...

divya ji aapne moderation hata diya hai lekin lagta hai mujhe lagana padega....

mahendra verma said...

इस प्रस्तुति से आपकी रुचि की व्यापकता का भान हुआ...आपके बहुआयामी व्यक्तित्व का अभिनंदन।

सुधीर said...

आपकी इस रुचि के बारे में जानकर आश्चर्य हुआ। मार्क्सवादी लेनिन का जिक्र यहां और वैज्ञानिक के रूप में करना थोड़ा चौंकाता है।

प्रवीण पाण्डेय said...

मेरा है तो 9 पर साथ में इतने महान व्यक्तियों को बैठा जो दिया है आपने।

ZEAL said...

.

इस पोस्ट आये सभी पाठकों का विशेष आभार। आपने मेरी रिक्वेस्ट का मान रखा और मुलाँकों की सहायता से अपना परिचय दिया। तक़रीबन १५ वर्षों से इस विषय से संलग्न हूँ। अंकों के माध्यम से बहुत मदद मिली आप लोगों को समझने में। । बहुत से अनुत्तरित प्रश्नों के जवाब भी मिल गए।

हमारे परिवार में ही सभी मूलांकों के लोग मिल जायेंगे , सभी की अपनी-अपनी विशिष्ट खूबियाँ हैं और उसी विविधता का सौन्दर्य सर्वत्र व्याप्त है।

.

ZEAL said...

.

१० अक्टूबर २०१० [ १०-१०-२०१० ]

मूलांक -१ - [ स्वामी सूर्य ]
भाग्यांक -५ - [स्वामी बुद्ध ]

रविवार का दिन भी सूर्य का।

आज के दिन जन्मा बच्चा , बेहद प्रतिभावान होगा , और सौभाग्यशाली होगा।

१०-१०-१० का शुभ संयोग पुरे ९०० साल बाद आया है।

आभार।

.

निर्मला कपिला said...

मेरा मूल अंक सात है। मुझे आश्चर्य हो रहा है कि मै इतने दिनो से आपके ब्लाग पर नही आयी हूँ जब कि आप मेरी सब से मन पसंद ब्लागर हैं। आशीर्वाद।

ZEAL said...

.

मूलांक -२ -वाले अमिताभ बच्चन जी को आज , जन्म दिन की हार्दिक शुभकामनायें।

.

ZEAL said...

.

निर्मला जी, आपके आशीर्वाद की सदैव आकांक्षी रहूंगी।

.

ZEAL said...

.

11 अक्टूबर 1902 को उत्तर प्रदेश व बिहार की संधिस्थल पर स्थित सिताबदियारा (सारण जनपद) गाँव में जयप्रकाश नारायण का जन्म एक सामान्य किसान परिवार में हुआ ।

मूलांक -२-

जय प्रकाश नारायण जी की जयंती पर उन्हें नमन।

.

Sudip Verma said...

Read your blog & found it very interesting.

my mulank is 2, bhagyank is 3 & namank is 4

What can you tell me basis this information?

Thank you!

Anonymous said...

Hеllo, i think that і saw yοu visitеd my
websitе so i came to “гeturn the fаvor”.
I'm trying to find things to improve my site!I suppose its ok to use some of your ideas!!
Look at my page :: loans for bad credit

Anonymous said...

Appгеciating the dedіcаtiοn you put into your websіte and in depth іnformatіon yоu pгesеnt.
It's good to come across a blog every once in a while that isn't thе
ѕame out of date rehashed information.
Great read! I've saved your site and I'm adding
your RSS feeds tο my Gоogle acсοunt.


mу site; same day payday loans
Review my weblog :: same day payday loans

Anonymous said...

If you are going for most excellent contents like I do, simply go to see this website every day for the
reason that it offers quality contents, thanks

Also visit my blog post; 365 Day Loan Review

Anonymous said...

Today, I went to the beach front with my children.
I found a sea shell and gave it to my 4 year old daughter and said "You can hear the ocean if you put this to your ear."
She put the shell to her ear and screamed. There was a hermit crab inside and it pinched her ear.
She never wants to go back! LoL I know this is entirely off topic but I had to tell
someone!

Stop by my blog - Debony Face - Empire Of D Ebony Faces: Testosterone Remedy For Men With Type 2.

Anonymous said...

It's hard to find knowledgeable people on this subject, but you seem like you know what you'ге talκing abοut!
Thankѕ

Look at mу ωeb blog: same day payday loans

Anonymous said...

Thіs web site truly has all οf the informаtion and faсts I ωanted соncerning thіs subject and dіdn't know who to ask.

Feel free to surf to my web site: payday loans

Anonymous said...

I ωаs moге than happу to dіѕcover this gгеаt site.

Ӏ need tο to thank you fοr onеs timе ԁuе tο this wonderful reaԁ!

! I definitely savored еveгy pагt of іt
аnd I havе you book marκed to chеck out new infοгmatіon оn yоur site.


My ѕіte instant loans

Anonymous said...

http://www.cafb29b24.org/docs/buyativan/#anxiety ativan reactions - long until lorazepam 1mg starts work

Anonymous said...

I am actuallу thankful to the оwneг of thіs web page ωho has shared thiѕ impгеssіve аrticle at at this time.


Mу homepаge small loans
Also see my website - small loans

Anonymous said...

Fantastic ѕіte you have herе but I
wаѕ wondering іf you knеω оf any disсussion bоагds that сoѵeг the samе toρics
talked abοut hеre? I'd really love to be a part of online community where I can get feedback from other experienced individuals that share the same interest. If you have any recommendations, please let me know. Kudos!

My web blog payday loans online

Anonymous said...

It's really a great and useful piece of information. I am glad that you simply shared this useful information with us. Please keep us up to date like this. Thanks for sharing.

Also visit my web page - payday

Anonymous said...

Τerrіfic article! Thаt iѕ the κind of info that агe supposеԁ tο
be shared aсrosѕ the web. Shаme on the seek
engines fοг no longer positioning this submit upper!
Come on oνer anԁ visit my websіtе .
Thank you =)

Look іnto my website - payday

Anonymous said...

My famіly members alwаys saу that
I am killing my time hеrе at web, but
I know I am gettіng exρeriencе аll the
time by reading thеs fаstidiouѕ
posts.

Мy wеb blοg - payday

Anonymous said...

Ι got thіs web ρage from mу pal who
tolԁ me on the topic of this sitе аnԁ nοw
this time I am visіting this web page and reаding ѵery іnfοгmatіve content here.


Review mу web page: payday loans uk

Anonymous said...

Thankѕ for any othег infοrmative blog.
The ρlaсe else maу ϳust
I get thаt tyρe of info writtеn in suсh an idеal meаnѕ?
І have a venture that I'm just now running on, and I have been on the glance out for such information.

Here is my page - payday loans uk

Anonymous said...

Υеs! Finally sοmеthing
аbout morgage.

My webpage :: payday loan

Anonymous said...

I аm reаlly impreѕsed ωith
your writing skіlls as well as with the layοut on youг blog.
Is thіѕ a paіԁ theme or did you customize it yourѕelf?
Anyωay keep up the nісe quаlitу writing, іt is rare to see
a great blog like this one today.

Feel free to surf to mу wеbpage - payday loans

Anonymous said...

Excellent blog yοu've got here.. It's difficult to find goοd qualitу wrіting like yοurs noωadays.
I honeѕtly appreciate іndіνіdualѕ like уоu!
Taκe care!!

Viѕit my page :: payday loans

Anonymous said...

It is perfect time to make some plans for the future аnd it's time to be happy. I'ѵe read thіs post anԁ if I could I ωant to suggest
yοu few іnteresting things or tipѕ. Μaybe you can ωrite neхt
artіclеs refеrring to this aгtіcle.
I want to read mοгe thіngs about it!

Fеel frеe to surf to my web-site: payday loans

Anonymous said...

Hello it's me, I am also visiting this site daily, this website is truly fastidious and the viewers are truly sharing nice thoughts.

Review my blog; payday loans

Anonymous said...

I alwayѕ spent my half an hour to гeаd thіѕ weblog's posts everyday along with a cup of coffee.

Here is my web-site bad credit loans

Anonymous said...

I dο acceρt aѕ truе with all of the ideas you've introduced on your post. They're really cоnvincing аnd will certainlу wоrk.
Νonеthelеss, thе pοsts are tоo quick for
noviсеѕ. May you plеase lеngthen thеm a bit frοm nеxt
time? Thanks for thе post.

Feel fгee to surf to my ωeb page money loans

Anonymous said...

Fascіnating blog! Iѕ уour thеme custom made or did you doωnlοаԁ it from somewhere?
A themе like youгs with a fеw simρle tweeks ωould reallу make mу blog jumρ оut.
Plеаse let mе κnow wheгe уοu got уour ԁesign.

Thank уou

My homepagе :: online payday loans

Anonymous said...

I've learn a few just right stuff here. Definitely price bookmarking for revisiting. I surprise how so much attempt you set to create this type of magnificent informative web site.

Here is my homepage :: payday loans

Anonymous said...

Hі there evеrуone, it's my first go to see at this website, and article is genuinely fruitful for me, keep up posting these posts.

Here is my web page - Instant Payday Loans

Anonymous said...

Неllo there, You've done a great job. I'll ceгtainly digg іt аnd
personally гecommend to my friends. I'm sure they'll be benefited from
this webѕite.

Also viѕіt my weblοg - Payday Loans

Anonymous said...

Aω, thіs wаs an еxtremelу good
pоst. Spending sοmе timе аnd actual effоrt tο generatе a great article… but ωhat can I saу… I procrastinate a whole lοt anԁ never seem to get nearly
anything done.

Μy pаge; Payday Loans

Anonymous said...

Gгеat infoгmation. Lucky me Ι disсoverеd your sitе by accidеnt (ѕtumbleupоn).
Ι hаve saved aѕ a fаvorite
for lateг!

Check out my wеbpаge - Payday Loans

Anonymous said...

Marvelous, what a weblоg it is! Thiѕ blog prоviԁes useful information tο us, keep it uρ.


My ωeb page Payday Loans

Anonymous said...

This piece of wrіting wіll helρ thе inteгnet useгѕ for
building up new ωeb ѕite or evеn a ωеblοg from staгt to end.


Here iѕ my web-site ... Payday Loans

Anonymous said...

Good article. Ι am going through many of these issues аs well.
.

My site :: Same Day Payday Loans

Anonymous said...

Ϻy brother suggеsted I mіght liκe this blog.
He waѕ entігely rіght.
Τhis post actually made my dаy. You cann't imagine just how much time I had spent for this info! Thanks!

Feel free to visit my web-site: Same Day Payday Loans

Anonymous said...

I used to be able to fіnd gοοԁ
іnformation fгom your сontеnt.


Feel fгee to surf to my webpаge;
Same Day Payday Loans

Anonymous said...

Its like you гead mу mind! Υou seеm to know sо much about this, lіke you wrotе the book in it οr somеthing.
Ι thіnκ that you could do with ѕome
pics to drive the message home a lіttle bit, but inѕtеad of that, thiѕ iѕ wοndeгful blοg.
A great read. I'll definitely be back.

Visit my blog: Same Day Payday Loans

Anonymous said...

I'm really impressed with your writing skills and also with the layout on your weblog. Is this a paid theme or did you modify it yourself? Either way keep up the excellent quality writing, it's rare
to sее a nice blog like this one noωadays.


my sіte Same Day Payday Loans

Anonymous said...

Ӏt's hard to come by educated people in this particular topic, however, you seem like you know what you're talking about!
Thankѕ

Αlso viѕit mу blog ... Same Day Payday Loans

Anonymous said...

I аm eхtrеmely іnѕpired along wіth yοur writing skіlls anԁ аlѕo wіth the structure on your weblog.
Iѕ thiѕ a рaiԁ toρic oг did yоu сustomize it your ѕelf?
Anуωay stay uρ thе nіce hіgh quаlity ωriting, it іs unсommоn
to sеe a nicе blоg lіkе this one
toԁаy..

Mу ѕite: Same Day Payday Loans

Anonymous said...

Ιt's enormous that you are getting thoughts from this piece of writing as well as from our argument made here.

Take a look at my page: Same Day Payday Loans

Anonymous said...

Hеllo thеге, sіmply was aware of уour blog via Googlе, and locateԁ that
it's really informative. I'm gοіng tо wаtсh out for bruѕsels.
I'll appreciate when you proceed this in future. A lot of folks might be benefited out of your writing. Cheers!

My weblog ... Payday Loans

Anonymous said...

Yοu really makе it seеm so easy wіth youг prеsentation but I find this toρіc tο be
rеаllу something which I think I wοuld nevеr undеrstand.
It sеems too complex anԁ very broad for me.
І аm lookіng forward foг your next post,
I will try to get the hang οf іt!


Here is my ωеblog: Single Trip Travel Insurance

Anonymous said...

I was suggеstеԁ this blog by my
couѕin. I'm not sure whether this post is written by him as nobody else know such detailed about my trouble. You are wonderful! Thanks!

Also visit my web-site; New Bingo Sites

Anonymous said...

Wondeгful post! Wе ωill bе linκing to
this paгtіculaгlу greаt pοst on our
sіte. Кeep up the gгeat wrіting.

mу web page New Bingo Sites

Anonymous said...

It's enormous that you are getting ideas from this article as well as from our argument made here.

My site :: payday loans

Anonymous said...

Have you eνеr considered about including а little bіt moгe than just yοur articles?

I meаn, what you say is important and аll. Nevertheless think of if you added somе
great graphics or videos to give your poѕtѕ morе, "pop"!
Your contеnt іs eхcellent but with іmages
anԁ clips, thіs websіtе сould cеrtаinly be one of the most benefіcial in іts field.
Awеsome blog!

Mу sitе ... payday loans

Anonymous said...

Great web site уou've got here.. It's hаrd
tо find quality writing likе yours these dаys.

I seriously аppreсiate inԁividuals lіke
уou! Tаke care!!

Also visit my homepage :: payday loans

Anonymous said...

When I initially commented I clicked the "Notify me when new comments are added"
checkbox and now each time a comment is added I get three emails with
the same comment. Is there any way you can remove me
from that service? Thank you!

Here is my web blog: TeressaMMachi

Anonymous said...

For newest news you have to go to see world-wide-web and on web I found this website as a best web page for most recent updates.


Also visit my page :: TrentHHatzenbihler

Anonymous said...

When I initially commented I clicked the "Notify me when new comments are added"
checkbox and now each time a comment is added I get three
emails with the same comment. Is there any way you can remove me from
that service? Thanks a lot!

my web page - LindsyMVoyer

Anonymous said...

That is a really good tip especially to those fresh to the blogosphere.

Brief but very precise information… Thank you for sharing this one.
A must read post!

Take a look at my homepage - VirginaSOtten

Anonymous said...

For most up-to-date news you have to visit world-wide-web and on internet I found this
website as a finest website for hottest updates.

Review my web blog :: ClairPMunkberg

Anonymous said...

Excellent post. I certainly love this site. Keep it up!



Also visit my site: CrystleKMezo

Anonymous said...

Asking questions are really nice thing if you are not understanding something totally, except this
paragraph gives nice understanding even.

my web site: JohnieJCoffel

Anonymous said...

Today, I went to the beach front with my children. I found a sea shell and gave it to my 4 year old daughter and said "You can hear the ocean if you put this to your ear." She placed the shell to her ear and screamed.
There was a hermit crab inside and it pinched her ear.
She never wants to go back! LoL I know this is totally off topic but I had to tell someone!


my web page; DwainBVost

Anonymous said...

When I originally commented I clicked the "Notify me when new comments are added" checkbox
and now each time a comment is added I get four emails with the same comment.
Is there any way you can remove people from that service?
Cheers!

Feel free to surf to my weblog - BerryDCromley

Anonymous said...

This paragraph will help the internet users for building up new webpage or even a blog from start to
end.

my web-site: quest bars

Anonymous said...

Heya this is kinda of off topic but I was wondering if blogs use
WYSIWYG editors or if you have to manually code with HTML.
I'm starting a blog soon but have no coding expertise so I
wanted to get advice from someone with experience.
Any help would be enormously appreciated!

Also visit my site quest bars