Thursday, June 21, 2012

ब्लॉगजगत का राउडी राठौर ......

ब्लॉगजगत का राउडी राठौर तईं चीन्ह के बताएं तो। ढूँढा, ढूँढा...मिला का ? नहीं न मिलेगा । अत्ता ईजी नहीं है जेत्ता समझे हौ आप। ऊ राउडी राठौर है, कौनो बिलार नहीं जो कोना -अतरा मा लुकाय गा हो।

अरे मिली कईसे। एक-दू ठौ होयें तो बुझाये भी , इहाँ तो झरबेरी के बेर जईसन उगा है। जेधर देखो , उधरौ एक राउडी बतियात मिल जाई।

बात करे राजनीति के तो पचासन राउडी आये-दिन पिसाच-माफिक खोपड़ी उठात रहत हैं। कहीं लालू तौ कहीं गुरू-घंटालू (नितिस्वा) । कहीं सोनिया माई तो कहीं ममता जीजी...

एगो असली वाला राउडी-बिलागर चीन्ह जाता तो अत्ति जहमत नाखी करेक परी।

चिंता-ता-तता-ता--चिंत-ता-ता....

-----------------------------------
काश उस फिल्म में दिखाए गए हीरो के समान कुछ सच्चे 'राउडी' भी होते हमारे समाज में , हर दफ्तर में, हर महकमे में तो फिर बात ही कुछ और होती , लेकिन नहीं वैसे साहसी, निर्भीक और इमानदार ऑफिसर अब नहीं होते...

Zeal

8 comments:

Dr.Ashutosh Mishra "Ashu" said...

aaderneeya divya jee bilkul sahi kaha hai aapne..lekin itni acchi bhojpuri aapne kaise seekhee ..bahut hee accha laga padhkar

Bikramjit said...

very true wish we have such true people who would od good


Bikram's

रविकर फैजाबादी said...

sahi baat |
सादर ||

विनीत कुमार सिंह said...

अरे का बात कई दिहनी रउरा ब्लॉग जगत के छोड़ीं वास्तविक दुनिया में ता भारत के सब दबंग सो चुकल बा...जगावे के प्रयास चल रहा बा शायद कुछ जाग जाये

जय माँ भारती
वन्देमातरम

दर्शन कौर धनोय said...

अब तो ऐसी ईमानदारी सिर्फ फिल्मो में ही दिखती है ..कब ये देश बदलेगा ?

expression said...

राऊडी तो बहुत हैं....मगर दादागिरी सिर्फ कमज़ोर पर दिखाते हैं....

M VERMA said...

नहीं मिला .. बहुत ढूंढा
का करें बात-बात के फन्ने खा

krishan said...

sach baat hai ab ese imaandaar logo sirf filmo mai hi dekhne ko milte hai nahi to aam jeevan mai to police waale sirf kuchh paiso ke liye apna Imaan bechte dikhaaye dete hai