Friday, June 22, 2012

मोदी का खौफ

डर किस्से लगता है ? सत्यनिष्ठ , ईमानदार और दृढ निश्चयी लोगों से। कुछ लोग मोदी के खिलाफ दुष्प्रचार में लगे हुए हैं। उन्हें मोदी अहंकारी लगने लगे हैं। कोई उन पर साम्प्रदायिक होने का आरोप लगता है। कोई उन्हें सभी को साथ लेकर चलने की नसीहत देता है।

मोदी दृढ-निश्चयी हैं । लगन के साथ , निस्वार्थ रूप से विकास कार्यों में लगे रहते हैं, और इसका लाभ उठा रहा है गुजरात का हर एक नागरिक। लेकिन अफ़सोस की कुछ छिछोरे निंदकों के कारण सारा भारत इस पिता-तुल्य महान शख्सियत की सेवाओं का लाभ नहीं उठा पा रहे हैं।

मोदी आप तो बढे चलो। असुरक्षा की भावना से ग्रस्त इन अवरोध स्वरुप तुच्छ लोगों की मत सुनो। इनका काम ही दूसरों को नीचा दिखाना , क्यों ये लोग वो नहीं बन सकते जो आप हैं। न ही ये आप की तरह निर्भीक हैं, न ही दृढ-निश्चयी।

मार्ग में आने वाले दुर्बुद्धि ईर्ष्यालुओं को उनके अंजाम तक पहुंचा दिया जाएगा। कितने दिन भौकेंगे ये लोग ? सभी देशभक्त आपके साथ हैं, दो-चार छुटभईयों को इग्नोर करते चलिए। भाव नहीं मिलेगा तो स्वयं ही शांत हो जायेंगे खिसियानी बिल्ली की तरह।

Zeal

15 comments:

प्रवीण गुप्ता said...

दिव्या जी नरेन्द्र मोदी जी तो सौ गीदडों के बीच मैं एक बब्बर शेर हैं, शेर से गीदड डरेगे तो हैं ही.

Bharat Bhushan said...

राजकाज में ग़लतियाँ होती हैं, कई बार करनी भी पड़ती हैं, लेकिन यह सच है कि मोदी दृढ़निश्चयी हैं.

रविकर फैजाबादी said...

गत भूपति नीतीश की, मोदी पेस विशेष |
जोड़ीदारों की खड़ी, खटिया सम्मुख रेस |

खटिया सम्मुख रेस, स्वार्थ मद अहंकार है |
जाय भाड़ में देश, जीभ में बड़ी धार है |

रविकर करता गर्व, हमारे नेता मोदी |
नहीं खेलते खेल, बैठ के दुश्मन गोदी ||

रविकर फैजाबादी said...

दुर्गति है नीतीश की, मोदी बने विशेष |
खटिया खुद की कर खड़ी, खाम्खाह की रेस |

खाम्खाह की रेस , स्वार्थ मद अहंकार है |
जाय भाड़ में देश, जीभ में बड़ी धार है |

रविकर करता गर्व, हमारे नेता मोदी |
नहीं खेलते खेल, बैठ के दुश्मन गोदी ||

विनीत कुमार सिंह said...

ईमानदारी और इमानदार में एक ऐसी आग होती जिससे सभी चोर झुलसने से बचने के लिए उसको भी अपने जैसा बनाने का प्रयास करते हैं| पर जब सफल नहीं हो पाते हैं तो झूठा दोषारोपण चालू कर देते हैं| और यहाँ तो चोरो की पूरी की पूरी मंडली सक्रिय है एक अकेले शेर को पिंजड़े में बंद करने को| इन चोरो को ये नहीं पता है की ये केवल शेर नहीं balki शिकारी भी है और किसी भी छोटे शिकारी की एक नहीं चलने वाली है|

Rajesh Kumari said...

आप सही कह रही हैं दृढ निश्चय साफ़ मंशा और हिम्मत वालों की ही अंत में जीत होती है निंदक खुद चुप बैठ जाते हैं

सुरेन्द्र सिंह " झंझट " said...

beshak divyaji!
100 pratishat sahmat hoon aapse...

सुरेन्द्र सिंह " झंझट " said...

beshak divyaji!
100 pratishat sahmat hoon aapse...

surenderpal vaidya said...

मोदी छत्रपति शिवाजी की की तरह सभी बाधाओं को पार करते हुए विजयपथ पर आगे बढ़ रहे है । विरोधिओं को मुँह की खानी पड़ेगी । वे भारत माँ के सच्चे कर्मठ योद्धा पुत्र हैँ ।

Maheshwari kaneri said...

आप सही कह रही हैं हिम्मत वालों की ही अंत में जीत होती है ..

डॉ. रूपचन्द्र शास्त्री मयंक (उच्चारण) said...

बहुत सुन्दर प्रस्तुति!
आपको सूचित करते हुए हर्ष हो रहा है कि-
आपकी इस प्रविष्टी की चर्चा कल शनिवार (23-06-2012) के चर्चा मंच पर भी होगी!

अनामिका की सदायें ...... said...

sher aur laumdi ki daud karva lo raaja to sher hi kahlaayega aur jeetega bhi.....

Dr.J.P.Tiwari said...

आपकी बातों में दम है, तर्कों में पर्याप्त बल है, यह निर्भीकता और सच्चाई की साहसपूर्ण अभिव्यक्ति है. रविकर जी ने सटीक टिप्पणी की है. मैं भी सहमत हूँ. आभार और बहुत-बहुत बधाई इस दमदार पोस्ट के लिए.

Dr.J.P.Tiwari said...

आपकी बातों में दम है, तर्कों में पर्याप्त बल है, यह निर्भीकता और सच्चाई की साहसपूर्ण अभिव्यक्ति है. रविकर जी ने सटीक टिप्पणी की है. मैं भी सहमत हूँ. आभार और बहुत-बहुत बधाई इस दमदार पोस्ट के लिए.

यादें....ashok saluja . said...

पाप रूपी घड़ा फोड़ने के लिय ....मोदी रूपी पत्थर ही चाहिए ....
शुभकामनाये हम सब को !