Wednesday, October 10, 2012

नौ सौ घोटाले करके बिल्ला हज को चला..

"देश से भ्रष्टाचार हटाने के लिए हम प्रतिबद्ध हैं" -- मनमोहन सिंह

Joke of the century !

नौ सौ घोटाले करके बिल्ला हज को चला !

13 comments:

पी.सी.गोदियाल "परचेत" said...

इन्हें पूछिए क्या सोनिया को हटा सकते है? यदि नहीं तो भ्रष्टाचार नहीं मिट सकता, सिर्फ जनता को गुमराह कर रहा है !

डॉ. रूपचन्द्र शास्त्री मयंक (उच्चारण) said...

हकीकत यही है!

रविकर said...

बढ़िया प्रस्तुति |
बधाई स्वीकारें ||

Maheshwari kaneri said...

नौ सौ घोटाले करके बिल्ला हज को चला ! ..बहुत सटीक जोक ..

दीर्घतमा said...

jaise manmohaan hai waise hi haz karne wale bhi haai , kangres to bhrashtrachar ki janani hai inse koi ummid karna dhokha hi dhokha hai.

दिवस said...

बातों के शेर बनना इस देश में कौनसा मुश्किल काम है? अभी मनमोहन "सिंह" केवल बातों का ही "सिंह" है। मुझे तो लगता है कि इस सिंह(?) की पगड़ी में जरुर गधे का "सींग" का होगा।

Arvind Jangid said...

बस ! वापस मत आना !!

रचना said...

aaj ki khabar

manmohan singh ketae haen private sector bribe daegaa to nahin chaelgaa aur kaaryvahi hogi

ab kejrivaal yahi keh rahe haen ki underhand bribe dii gayii thee rv ko to kejrivaal galat

mahendra mishra said...

manoo ke maje hain ...badhiya post ...

Rajesh Kumari said...

देश को मिटाने के लिए हम प्रतिज्ञा बद्ध है ऐसा कहा होगा आपने ध्यान से नहीं सुना दिव्या जी

ई. प्रदीप कुमार साहनी said...

बहुत खूब कहा है |

नई पोस्ट:-ओ कलम !!

Virendra Kumar Sharma said...

इनका हरमिंदर साहब किधर है जग ज़ाहिर है .लो कल लो बात बिल्ला हरमिंदर साहब चला ........इनकी इस प्रति -बढता ने ही भारत को भारत से भ्रष्ट बना

दिया है .अब और प्रति -बढता नहीं चाहिए ...सर !

surenderpal vaidya said...

जोकरों की सरकार, उपर से भ्रष्टाचारी,
ये तो नीम चढ़े करलोँ की, गैँग बनी सरकारी ।