Sunday, July 15, 2012

Education and qualification

हमारे देश में Education बहुत महँगी है, गरीब अपने बच्चे को पढ़ा नहीं पा रहा। और अफ़सोस कि इसी देश में Qualification बहुत सस्ती है, पढ़े-लिखे लोग अपनी-अपनी डिग्री लिए मारे-मारे फिरते हैं....

22 comments:

डॉ. रूपचन्द्र शास्त्री मयंक (उच्चारण) said...

यही हकीकत है हमारे देश की।

expression said...

and the saddest part of the story is that the most of the qualified people are uneducated!!!!!

anu

प्रवीण पाण्डेय said...

पढ़े हुओं को काम मिले..

रविकर फैजाबादी said...

कोदों-सावाँ बेंच के, डिग्री लिया बटोर |
लाख रुपैया टेट में, सर्विस रहा अगोर |
सर्विस रहा अगोर, खेत के नहीं काम का |
ढूंढ़ रहा है रकम, काम भी मिला नाम का |
पिच-पिच खैनी खाय, वसूले दिया रुपैया |
ढूंढे दिया जलाय, नौकरी मेधा भैया ||

Bharat Bhushan said...

हमारी शिक्षा व्यवस्था का इससे छोटा सार नहीं हो सकता. देश के लोग दोधारी तलवार से घायल हो रहे हैं.

Maheshwari kaneri said...

सही कहा ..यही सच है..

kshama said...

Gareebon ke liye sarkaaree paathshalayen to hain,lekin unka star kaisa hota hai ye sabhee jante hain.....mai isi qism ek school me padhee hun.......lekin isliye mujhe khud behad mehnat karnee padee.Tab jake Pune University me dakhla mil saka.

Rakesh Kumar said...

बहुत ही खेदजनक स्थिति है.

lokendra singh rajput said...

कड़वा सच भारत का भारत के युवाओं के लिए...

सदा said...

बिल्‍कुल सच्‍ची बात

surenderpal vaidya said...

सही कहा आपने । शिक्षा संस्थान शिक्षा के व्यावसायिक परिसर बन गये हैं जहां इसे बेचकर पैसा कमाया जाता है । गरीब बेचारा रोटी कमाए या ....?

boletobindas said...

डिग्री और तकनीकि कौशल लगात है देश में सिक्के के दो पहलू बनते जा रहे हैं.। कई सर्वे ये साबित कर चुके हैं कि तकनीकि दक्षता वाले लोगो की सख्त कमी है..। पर जिस रफ्तार से फिलहाल हर तरह की शिक्षा की रफ्तार बढ़ रही है ..उसके बाद महज एकाध दशक के बीतते-बीतते तकनीकि कौशल में दक्ष और डिग्रीधारी एक साथ धक्के खा रहे होंगे..हमारे यहां विकास के जिस रास्ते को पकड़ लेते हैं तो उसके पीछे ही पड़ जाते हैं..ये भूल जाते हैं कि वनवे ट्रैफिक से काम नहीं चलता..दूसरे रास्ते का भी बनना जरुरी है।

Dr.Ashutosh Mishra "Ashu" said...

aapse sau pratishat sahmat...

Bikramjit said...

oh yes , I get emails to come and get microsoft GAURANTEED certification for some money in delhi ..


But what use is it , I have seen some brilliant consultants who have written code and It is a waste of TIME


Open letter to all Indians-Bikram's

Bhagat Singh Panthi said...

कुकुरमुत्तों की तरह इंजीनियरिंग और मैनेजमेंट कॉलेज खुल रहे हैं लेकिन फीस वही जो सब जगह है. यही हाल स्कूलस का हो रहा है. http://bhagatbpl.blogspot.in/2012/06/issuing-transfer-certificate-from.html

आशा जोगळेकर said...

कडवी हकीकत ।

यादें....ashok saluja . said...

और जुर्म की दुनियां में दाखिल हो जाते है ..?

सुरेन्द्र सिंह " झंझट " said...

sau feesdi sach ....

Bharat Bhushan said...

कृपया जल्द लौटिए.

surenderpal vaidya said...

शिक्षा और स्वास्थ्य सेवा के क्षेत्र हैं । लेकिन ये आजके युग मे सबसे अधिक लाभ कमाने के उद्योग बन गये हैं । नतीजा सबके सामने है ।

Anonymous said...

Hi there, after reading this awesome article i am too happy to share my familiarity
here with friends.
My website: my article express

Anonymous said...

If some one wishes expert view concerning running a blog afterward i propose
him/her to go to see this blog, Keep up the nice job.
Also visit my homepage ... click here button