Thursday, July 26, 2012

बाई हुक और बाई क्रूक...

निसंदेह हिन्दुओं और हिंदुस्तान को यदि कोई बचा सकता है तो वह है बीजेपी। कुछ लोगों का कहना है की बीजेपी में कोई बेवकूफ नहीं बैठे हैं, सभी एक से बढ़कर एक दिग्गज हैं। उनके पास भी अकल है। वे भी कूटनीति कर रहे हैं और अपनी रण नीति बना रहे हैं। लेकिन प्रश्न यह है की वह रणनीति दिखेगी कब ? उत्तर प्रदेश के चुनाव निकल गए। सब कुछ अपने हाथ में ही था लेकिन नहीं वे तो निश्चिन्त थे। , फिर राष्ट्रपति के नाम पर भी एकमत न हो पाये। काश कलाम के नाम पर ममता की तरह अड़े ही रहते तो डॉ कलाम शायद अपना नाम वापस नहीं लेते। फिर प्रणब को भी कांटे की टक्कर मिलती और वे फूल कर कुप्पा नहीं होते। कांग्रेस की रण नीति स्पष्ट है, वह तो साम , दाम, दंड , छेदन , विभेदन और आतंक सभी हथियार को इस्तेमाल करके अपने कलाकार सभी सर्वोच्च पदों पर बैठा रही है। पहले मीडिया खरीद ली, फिर सीबीआई और अब तो राष्ट्रपति भी उनका है। सुन-गुड्डा प्रधानमन्त्री तो पहले ही बेमोल उनका हो चुका था। बीजेपी को भी अपनी रणनीति अब स्पष्ट कर देनी चाहिए। बाई हुक और बाई क्रूक , सत्ता हथिया ही लेनी चाहिए। नहीं तो कहीं देर न हो जाए, पहले आप, पहले आप की रण नीति में....

6 comments:

surenderpal vaidya said...

बिल्कुल ठीक कहा आपने । बीजेपी को अपनी रणनीति स्पष्ट करके अपने एजेंडे पर लौट आना चाहिए । NDA मेँ रहकर अपनी भद्द पिटवाने से अच्छा है अपने दम पर जनता में अपती खोई हुई पहचान, प्रतिष्ठा और विश्वसनीयता को फिर से प्राप्त करें । दशा और दिशा मेँ सुधार की बहुत आवश्यकता है ।

veerubhai said...

बी. जे. पी. के पास न '"गूगल का डूडल " है ,न " सोनी का पूडल "जीते या हारे क्या फर्क पड़ता है .स्वाभिमान तो है .मेधा तो है .वाग्विदग्धता तो है .यहाँ तो मंद बुद्धि और पूडलो का डेरा है .वर्तमान राष्ट्र पति भी इंदिरा जी की "His masters voice " थे .जल्दी ही आप इस विषय पर एक लम्बी कविता देखिएगा .

Rajesh Kumari said...

BJP ko pahle aapsi matbhed bhulakar ek jut hokar apni ranneeti taiyaar karni chahiye .....bilkul sahi paramarsh diya hai Divya ji

Tapas said...

Aaj ki tarikh me BJP se bada bevkur koi nhi hai .... ek bhi neta ( Modi ji ke alawa) me dam nhi hai...
rashtrapati chunav ho Uprashtrapati chunav har jagah ondhe muh ki khayi hai ..
Bihar me Nitish ko sambhal nhi pa rahe hai jo unhi ki vajah se CM bana hai

kya hoga iss desh ka

Vaanbhatt said...

अरे भाई बी जे पी कैसे सत्ता में आएगी...ये अलग-अलग एक दूसरे के विरुद्ध लडेंगे...फिर धर्म निरपेक्षता के नाम पर एक हो जायेंगे...ये सब सिर्फ हुक और क्रुक से हो सत्ता में रहे हैं...बी जे पी को इतना गिरने में समय लगेगा...

Suresh kumar said...

Ji ha waqt aa gaya hai ..