Monday, January 14, 2013

ऐसी कायरता पर हँसता होगा पाकिस्तान !!

एक अजनबी प्रतिमा के आँचल की काली छाया में !
बने नपुंसक कब तक गाओगे उसका गुणगान !
रोज तमाचा खाकर भी प्रतिकार नहीं करते हो !
ऐसी कायरता पर हँसता होगा पाकिस्तान !!
.
क्रूर भेड़िया घर में घुस कर आग लगा देता है !
संसद पर हमला करता है, ताज ढहा देता है !
तुम संसद में बैठ लिया करते केवल संज्ञान !
ऐसी कायरता पर हँसता होगा पाकिस्तान !!
.
नीच पड़ोसी गुर्राता है, आँखें दिखलाता है !
अपने अनुचर भेज यहाँ पर दंगे करवाता है !
बिल में दुबके बैठे हो, सोये हो चादर तान !
ऐसी कायरता पर हँसता होगा पाकिस्तान !!
.
अस्त-व्यस्त घर की हालत, मँहगाई सिर चढ़ बोले !
गलत नीति के कारण पूरी अर्थ – व्यवस्था डोले !
जनता के अरबों रुपये का कर आते हो दान !
ऐसी कायरता पर हँसता होगा पाकिस्तान !!
.
शब्दों के आडम्बर रच नित सबको भरमाते हो !
सच्चाई स्वीकार नहीं करते हो, शरमाते हो !
भारत के सरदारो रक्खो कुछ तो इसकी शान !
कहीं फिर ऐसी कायरता पर हँसे ये सारा जहान !!
 
By- कमलेश चौबे

17 comments:

expression said...

अरे हम कायर नहीं हैं...
हमने भी कह दिया अब आगे से "फिर" किया तो छोड़ेंगे नहीं !!!!!!
:-/

अनु

डॉ. रूपचन्द्र शास्त्री मयंक (उच्चारण) said...

सुन्दर प्रस्तुति!
--
मकरसंक्रान्ति की हार्दिक शुभकामनाएँ!

Bikramjit said...

I can understand the frustration..
But I can never beleive that our leaderrs will EVER worry about it , they dont have guts to do anything ever..
Bikram's

Bikramjit said...

and on a second thought I wont be surprised if in future it comes out that it was the GOVT who did all this to daviate the nations eyes from what happened in delhi.. you can never trust our politicians

Bikram's

Sunil Kumar said...

सच्चाई से कही गयी बात अच्छी लगी ....

ई. प्रदीप कुमार साहनी said...

आपकी इस उत्कृष्ट पोस्ट की चर्चा बुधवार (16-01-13) के चर्चा मंच पर भी है | जरूर पधारें |
सूचनार्थ |

पूरण खंडेलवाल said...

ऐसी कायरता पर हँसता होगा पाकिस्तान ......
काश कुछ जोश आ जाये ऐसी कविता पढकर !!

प्रवीण पाण्डेय said...

निश्चय हम अब इसी योग्य रह गये हैं..

saralhindi said...

Very good poem.

Why not write Hindi in India's simplest Shirorekhaa and Nuktaaa free Gujarati Script?

रजनीश के झा (Rajneesh K Jha) said...

प्रभावशाली ,
जारी रहें।

शुभकामना !!!

आर्यावर्त (समृद्ध भारत की आवाज़)
आर्यावर्त में समाचार और आलेख प्रकाशन के लिए सीधे संपादक को editor.aaryaavart@gmail.com पर मेल करें।

महेन्द्र श्रीवास्तव said...

अच्छी रचना कमलेश जी
आपका भी बहुत बहुत आभार,

प्रतिभा सक्सेना said...

सिर्फ़ पाकिस्तान क्यों ,सारी दुनिया हँसती है!

दिगम्बर नासवा said...

देश वासी पता नहीं कब जागेंगे ... उखाड़एंगे इस कायर सरकार को ...

Maheshwari kaneri said...

हम भी कायर नहीं..देख लेंगे. सुन्दर प्रस्तुति!
--
मकरसंक्रान्ति की हार्दिक शुभकामनाएँ!

अजय कुमार झा said...

हां नि:संदेह भारत के लचीले रुख और ढुलमुल रवैये से ही दुश्मनों के हौसले बढते हैं , यदि एक बार कदम कडा कर दिया जाए तो उलटे पांव भाग लेंगे वे

Rajendra Kumar said...

नस नस में देशभक्ति की संचार करती सुन्दर प्रस्तुती।
भूली-बिसरी यादें
वेब मीडिया

दिवस said...

शानदार प्रस्तुति कमलेश चौबे जी की।
सच में ऐसी कायरता पर हँसता होगा पाकिस्तान। जबकि हम कायर नहीं हैं फिर भी हमे कायर कहने का फुल स्कोप मौजूद है।