Saturday, July 6, 2013

जागो हिन्दू जागो

दोहरे मापदंड अपनाने वाली कांग्रेस सरकार को 'लश्कर-आतंकी' इशरत जहां की बहुत परवाह है , नितीश कुमार तो उसे अपनी बेटी बता रहे हैं , लेकिन नर्क से बद्तर ज़िन्दगी जी रही 'प्रज्ञा सिंह ठाकुर' की कोई परवाह नहीं है ! 

10 comments:

Anonymous said...

बेहद शर्मनाक । केवल वोटों के लिये ये लोग अपना ईमान धर्म गिरवी रख रहे हैं वरना काँग्रेसी सपा तथा अन्य दलों के साथ-साथ नीतीश जैसे नेता मुसलमान भाइयों के कितने हितैषी हैं, सब सामने है । जनता को क्या बेवकूफ समझ रखा है । बन्द करो ये नाटकबाजी और देश के लिये सोचो गद्दारो ।

पूरण खण्डेलवाल said...

सही कहा है !!

दीर्घतमा said...

यदि हिन्दू सोता रहा तो देश भक्तों के साथ यही होगा,

दीर्घतमा said...

यदि हिन्दू सोता रहा तो देश भक्तों के साथ यही होगा,

Maheshwari kaneri said...

सही कहा है ...

रूपचन्द्र शास्त्री मयंक said...

बहुत सुन्दर प्रस्तुति...!
आपको सूचित करते हुए हर्ष हो रहा है कि आपकी इस प्रविष्टी की चर्चा कल सोमवार (07-07-2013) को <a href="http://charchamanch.blogspot.in/“ मँहगाई की बीन पे , नाच रहे हैं साँप” (चर्चा मंच-अंकः1299) <a href=" पर भी होगी!
सादर...!
डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक'

रूपचन्द्र शास्त्री मयंक said...

मैं भी कितना भुलक्कड़ हो गया हूँ। नहीं जानता, काम का बोझ है या उम्र का दबाव!
--
पूर्व के कमेंट में सुधार!
आपकी इस पोस्ट का लिंक आज रविवार (7-7-2013) को चर्चा मंच पर है।
सूचनार्थ...!
--

Kuldeep Thakur said...

एक पंखति में सब कह दिया...

महेन्द्र श्रीवास्तव said...

बात तो सही है

संजय भास्‍कर said...

सुन्दर प्रस्तुति...!