Sunday, August 26, 2012

इस फुलवारी की ५०० वीं पोस्ट और चालीसवां पड़ाव !


11 th July 2012

My Friends-- 23rd Feb2012

ब्लॉगिंग के दो साल दो माह के लेखन अनुभव में बहुत कुछ सीखा ! अंतरजाल पर बुद्धिजीवियों , विचारकों और क्रांतिकारियों ने जीवन में एक नयी ऊर्जा का संचार किया ! विविध विषयों पर ज्ञानवर्धन हुआ ! लेखक मित्रों की कलम से निकले शब्द मन-मस्तिष्क पर अमिट छाप छोड़ गए ! ब्लॉगिंग की ये दुनिया एक फुलवारी की तरह लगी ! रंग-बिरंगे पौधों पर सुवासित पुष्प मंजरियाँ ह्रदय को हौले से छूती रहीं !

गत ११ जुलाई २०१२ को उम्र के चालीस बेहतरीन वर्ष पूरे कर लिए ! मुझे लगता है, ये उम्र, जीवन का सबसे सुन्दर पड़ाव है ! इस उम्र तक आते-आते ज़िन्दगी के तकरीबन सभी खट्टे-मीठे अनुभव हो जाते हैं ! जैसे बचपन में सहेलियों के साथ झगडे किये थे, वैसे ही ब्लॉगर बंधुओं और भगिनियों के साथ नोक-झोंक में एक अलग ही आनंद और मज़ा आया ! बहुत कुछ सीखा इस तकरार के माध्यम से भी !

हम सभी एक-दुसरे से ही सीखते हैं , इसलिए बीच-बीच में आभार व्यक्त करते रहना चाहिए ताकि 'मित्र-ऋण' अदा होता रहे ! आप सभी का ह्रदय से आभार !

अब तक मिली तकरीबन २५,००० टिप्पणियों के लिए पाठक वर्ग का विशेष आभार !

ब्लॉग पर एक विशेष अनुभव रहा ! कुछ लोगों ने मुझ पर छद्म होने का आरोप लगाया ! अनवर जी ने मुझे और डॉ रूपेश श्रीवास्तव को एक ही बताया, लेकिन अफ़सोस की डॉ रूपेश , जिन्होंने मुझे हमेशा भाई का प्यार दिया वे अब इस दुनिया में नहीं हैं, लेकिन दिव्या अभी भी जीवित है ! शायद अनवर जी के मन का वहम अब दूर हो गया होगा. !

अनवर जी की पोस्ट पर शिखा कौशिक जी का कमेन्ट था की--" दिव्या स्त्री नहीं पुरुष है "-- शिखा जी से मेरा कहना है की एक लेखक न ही स्त्री होता है न ही पुरुष , हमें स्त्री-पुरुष नहीं बल्कि व्यक्ति का पौरुष देखना चाहिए !

समाज में लिंग-भेद बहुत है! यही Gender discrimination मुझे ब्लॉग-जगत में भी देखने को मिलता है ! मेरी ये हार्दिक इच्छा है की इस लिंग-भेद को समाप्त किया जाए ! एक दुसरे को पढ़ते समय सिर्फ उसके विचारों पर ध्यान दिया जाए, अन्य बातों पर नहीं !

चूँकि उम्र के चालीसवें पड़ाव की बात चली है तो आईये आप भी शामिल होईये हमारे परिवार के साथ , जब हमने अपने जन्म-दिन पर पारिवारिक-मित्रों के साथ ये पिकनिक मनाई !

Zeal


35 comments:

अजय कुमार said...

जन्मदिन की बधाई--साथ साथ ५०० पोस्ट पूर्ण होने की भी बधाई ।

प्रवीण पाण्डेय said...

जन्मदिन की बधाई, ५०० पोस्ट तो बहुत बड़ा मुकाम है।

वन्दना said...

500 वीं पोस्ट और चालीसवें जन्म दिन की हार्दिक शुभकामनायें।

"पलाश" said...

देर से आपको जन्म दिन की शुभकामनाए दे रही हूँ, इसके लिये क्षमाप्रार्थी हूँ , आप निरन्तर यूं ही लिखती रहे, आपका जीवन सुखमय हो ......
ब्लाग जगत में आपको मिली सफलता के लिये तहे दिल से मेरी शुभकामनाये

Prabodh Kumar Govil said...

Apke vichaaron ko padh kar kai baar lagta raha ki yah to meri bhi soch hai. Kai baar maine aapse aisa kaha bhi. raaz aaj khula!Aapne mera janmdin bhi manaaya hai. Log chahe ise "vishv jansankhya diwas" kahen, chaliye ham to ek-doosre ko badhaai de hi sakte hain. Apne blog ke yahi tewar,yahi jivantata, aur yahi prakharta banaaye rakhiye.

दिवस said...

उम्र के चालीस पड़ाव बीत गए और ऊर्जा भी चालीस गुना अधिक हो गयी आपकी| आपके अनुभवों से बहुत कुछ सीखा|
अनवर जमाल ने रुपेश भैया को ही नहीं दिवस को भी दिव्या बता दिया था| किन्तु एक बात कहूँ, मुझे उसका यह कथन अच्छा लगा था| इसमें गलत भी तो नहीं था कुछ|
आपकी सभी तस्वीरें बहुत अच्छी लगीं| तस्वीरों से लगता है आपका भारत प्रवास सुखद रहा| आपकी नयी प्रोफाइल पिक मेरे मन की बात कह रही है| मैं तो हमेशा से ही कहता आया हूँ कि आप ही भारत माता हैं| किन्तु अब आपकी वह पुरानी तस्वीर याद आएगी| कृपया उसे फिर से लगा दीजिये न|
सादर
अपनी माँ भारती की सेवा में आपका यह पार्थ

कुश्वंश said...

दिव्या जी जीवन के चालीस बसंत और ५०० वी पोस्ट के लिए ह्रदय से शुभकामनाये .ये जीवन तमाम तरह के उतार चढ़ाव से ही अर्थ पाता है और उन्ही अर्थों निरार्थाकों में होते है तमाम तरह के न याद किये जाने वाले सोपान भी . अर्थक सोपान को आत्मसात कीजिये , निरर्थक तो पाने आप गर्त में चले जायेंगे .

चन्द्र भूषण मिश्र ‘ग़ाफ़िल’ said...

बहुत ख़ूब!
आपकी यह सुन्दर प्रविष्टि कल दिनांक 27-08-2012 को सोमवारीय चर्चामंच-984 पर लिंक की जा रही है। सादर सूचनार्थ

Maheshwari kaneri said...

जन्म दिन की बहुत बहुत बधाई और हार्दिक शुभकामनायें।..साथ ही ५०० पोस्ट पूर्ण होने की भी बधाई ।

यशवन्त माथुर (Yashwant Mathur) said...

कोंग्रेच्युलेशन्स अनलिमिटेड ।
आवर बेस्ट विशेस आर आलवेज विथ यू।



रिगार्ड्स.

प्रतिभा सक्सेना said...

जन्म-दिवस की हार्दिक बधाई ,और 500 पोस्टों की भी !
जीवन के बहुरंगी अनुभवों को साथ कदम बढ़ाते हुये अभी आपको बहुत आगे जाना है इसी ऊर्जा और बढ़ते विश्वास के साथ !

unmukt S said...

जन्मदिन की शुभकानायें।

पांचवां सैकड़ा पूरा करने की बधाई - लिखती चलिये।

पुरुषोत्तम पाण्डेय said...

कल की ही तो बात है हम तुम सब बच्चे थे, आज बड़ी बड़ी बातें करने लगे हैं. समय कब कैसे भाग जाता है पता ही नहीं चलता है. उम्र के इस खूबसूरत पडाव पर बधाई है.लिखती रहो.

सुशील said...

चालीस और पाँच सौ दोनो की बधाई
बात कुछ थोड़ी हमारी भी समझ में आई
फुलवारी लिखा है और झील(जील) भी है
आदमी होता तो बगीचा लिखता
और झील की जगह झेल रहा होता !

Virendra Kumar Sharma said...

जन्म दिन पर यही दुआ निकलती है -सलामत रहो ,रोशन तुम्ही से दुनिया ,रौनक तुम्ही जहां की ,सलामत रहो ....देर आयद दुरुस्त आयद जुलाई ११ ,मुबारक दिन ,मुबारक . कृपया यहाँ भी पधारें -
सोमवार, 27 अगस्त २०१२/
ram ram bhai
अतिशय रीढ़ वक्रता (Scoliosis) का भी समाधान है काइरोप्रेक्टिक चिकित्सा प्रणाली में
http://veerubhai1947.blogspot.com/

Virendra Kumar Sharma said...

पांच सौ के आगे एक बिंदी और लगे .....बधाई ,आपके द्विलैंगिक होने की ,दिव्या न हुई माइकल जेक्सन हो गया ......मेरी तू जात क्या पूछती है ,मुन्नी ,शियाओं में ,मैं शिया हूँ ,सुन्नियों में सुन्नी ....पर मुझे सेकुलर मत कहना भले गाली देलो .....हा ! हा !हा !कृपया यहाँ भी शिरकत करें -
अतिशय रीढ़ वक्रता का भी समाधान है काइरोप्रेक्टिक चिकित्सा प्रणाली में
एक दिशा ओर को रीढ़ का अतिरिक्त झुकाव बोले तो Scoliosis
http://kabirakhadabazarmein.blogspot.in/

mahendra verma said...

जन्मदिन और 500वीं पोस्ट के लिए हार्दिक बधाई और शुभकामनाएं, दिव्या।।
यशस्विनी च शतायु भव।

Rajendra Swarnkar : राजेन्द्र स्वर्णकार said...

.

**♥**♥**♥**♥**♥**♥**♥**♥**
~^~^~^~^~^~^~^~^~^~^~^~^~
¤¤¤¤¤¤¤¤¤¤¤¤¤¤¤¤¤¤¤¤¤¤¤¤¤¤¤
आदरणीया दिव्या जी
सस्नेह अभिवादन !
*चालीसवें जन्मदिन की हार्दिक बधाई !*
**हार्दिक शुभकामनाएं !**


५०० वीं पोस्ट के लिए भी बधाइयां !
****मंगलकामनाएं !****
राजेन्द्र स्वर्णकार
¤¤¤¤¤¤¤¤¤¤¤¤¤¤¤¤¤¤¤¤¤¤¤¤¤¤
~^~^~^~^~^~^~^~^~^~^~^~^~
**♥**♥**♥**♥**♥**♥**♥**♥**

शोभना चौरे said...

बहुत दिनों बाद सुबह-सुबह फुलवारी की की खुशबू मन को महका गई |
"उम्र का चालीसवा साल मौका का या धोखा का "ये था विषय आज से ३० साल पहले एक महिला मंडल में चर्चा का और जिसे ""मौका मानकर कई महिलाओ ने अपने जीवन में अनेक उपलब्धिया पाई |
जिसकी मै प्रत्यक्ष गवाह हूँ |
आपका जीवन भी इन्ही शुभकामनाओ के साथ आगे बढ़ता रहे |५००वि पोस्ट की भी अनेक बधाई और जन्मदिन की शुभकामना |

सदा said...

बहुत-बहुत बधाई के साथ अनंत शुभकामनाएं

काजल कुमार Kajal Kumar said...

दोनों ही बातों पर बधाई :)

प्रतुल वशिष्ठ said...

आपके अब तक के सभी ५०० चिट्ठों में रसों की विविधता मिलती है. विचार-विमर्श करवाती, प्रेरित करती, झिड़कती, फटकार लगाती, सोचने को बाध्य करती, स्वस्थ मनोरंजन देती, भावुक करती, संवेदना जागृत करती, शर्मिन्दा करती, आदि-आदि......... मतलब ये कि अपने पाठकों के मनोभावों से ऐसे खेलती जैसे कि घर की ही कोई सदस्या हो. तभी तो हर आयु वर्ग को आपने बड़ी सहजता से जोड़ लिया. जिसमें लेशमात्र भी अपने ज्ञान का अहं नहीं था वे आपके ब्लॉग पर नियमित आते हुए दिखायी दिये.

आपकी पोस्टों का महाशतक शीघ्र पूरा हो - इसकी चाहना है. ... हम भी आपके शुभचिंतकों की पंक्ति में खड़े होकर हर्ष-निनाद करते हैं.

boletobindas said...

आपको जन्मदिन की बहुत सारी बधाई दिव्या जी....अपुन भी आपसे बस ड़ेढ बरस पीछु पीछु हैं....पर जन्मदिन का केक किधर को खो गया ये अपुन को पता नहीं चला....पर एक मामले में आपसे काफी पीछे हैं अपन...लिखते-लिखते आप पांच सौ पोस्ट पार कर गईं....औऱ अपना तो ढ़ाई साल में 97 पोस्ट तक ही पुहंच पाएं हैं..अपनी तो सेंचुरी भी नहीं हो सकी है अब तक। संचुरी लगेगी भी तो वो भी ठुक ठुक करके ही लगेगी..धांसु छक्का तो शायद ही लगे अपुन से......एक बार फिर जन्मदिन की बधाई।

Mahima said...

happy birthday
nice post....

nilesh mathur said...

हार्दिक शुभकामना और बधाई...

कविता रावत said...

आपको जन्मदिन के साथ ही ५०० वीं पोस्ट प्रस्तुति के लिए हार्दिक शुभकामनायें ..

दिलबाग विर्क said...

बहुत बहुत बधाई.............

Satish Chandra Satyarthi said...

ढेर सारी बधाइयाँ आपको....
इतने कम समय में ५०० पोस्ट और २५००० टिप्पणियां यह दिखाती हैं कि आप ब्लॉगिंग को लेकर कितनी प्रतिबद्ध हैं और आपके पाठक और मित्र आपको कितना प्यार करते हैं...

Ramakant Singh said...

आपको जन्मदिन के साथ ही ५०० वीं पोस्ट प्रस्तुति के लिए हार्दिक शुभकामनायें

Rakesh Kumar said...

बहुत बहुत बधाई और शुभकामनाएँ.

India Darpan said...

बहुत ही शानदार और सराहनीय प्रस्तुति....
बधाई

इंडिया दर्पण
पर भी पधारेँ।

Bikramjit said...

divya mam.. many happy returns of the day, I did not know and you did not tell , Shayad invite karna pad jata mere ko isliye :) he he he

and wow on the mark reached in blogging ..
what you say is true , blogging world is full of selfish and ODD people , But its ok everyone to their own.. they are happy they are being idiots and that no one can find them out .. SO LET THEM BE...

take care and I want some cake :) yayyyyyyyyyyyyy

Bikram's

ZEAL said...

सभी प्रबुद्ध टिप्पणीकारों की शुभकामनाओं के लिए आभार !

kunwarji's said...

आपको जन्मदिन के साथ ही 500 वीं पोस्ट प्रस्तुति के लिए हार्दिक शुभकामनायें ..

कुँवर जी,

Bharat Bhushan said...

पाँच सौवीं पोस्ट और चालीसवें जन्मदिन की हार्दिक बधाई. ईश्वर की कृपा बनी रहे.