Friday, February 17, 2012

सत्ता का क्रूर मज़ाक...

राहुल विंसी गुस्सा है , मैं निराश हूँ उसके गुस्से का कारण तो बस एक ही है की उसे आशातीत चुनावी परिणाम नहीं मिल रहे हैं। लेकिन मेरी निराशा के अनगिनत कारण हो गए हैं। यथा--
हर इंसान बिकाऊ क्यों हो गया है।
मुसलामानों की खरीद-फरोख्त कब बंद होगी।
मीडिया छिछोरेपन से कब बाज़ आएगा,
सिर्फ राहुल और प्रियंका को दिखाता है , अन्य पार्टियों को क्यों नहीं,
चुनाव आयोग पक्षपात क्यों कर रहा है,
मंत्री अपने पद की गरिमा क्यों नहीं समझ रहे,
जनता के साथ , सत्ता का क्रूर मज़ाक कब बंद होगा,
चाटुकार अपनी दुम हिलाना कब बंद करेंगे,
भारत में हो रहा राजनैतिक-घटियापन, विदेशों में क्यों नहीं होता।
लोकतंत्र की परिभाषा ये नेता कब समझेंगे।
मुसलामानों का स्वाभिमान कब जागेगा और उनके भी रक्त में उबाल कब आएगा। कब बनेंगे ये लोग भारतीय और कब लड़ेंगे अपने देश के लिए।

वन्दे मातरम् !

16 comments:

पी.सी.गोदियाल "परचेत" said...

I Can See No Ray of Hope. Not only Muslims but people of every caste and creed are very ignorant and short shighted.

KRANT M.L.Verma said...

इस देश में मुस्लिम समुदाय को बरगलाने में कांग्रेस सबसे आगे रही है राहुल तो उसी लीक पर चलने का प्रयास भर कर रहा है उसकी नीयत पर काहे को शक कर रही हो वह न तो शायर है न सिंह है और न ही सपूत जो लीक छोड़ कर चल सके.

आशा जोगळेकर said...

झील जी ज्वलंत प्रश्न हैं ये हर नागरिक के मन में उठ रहे हैं । जवाब कहीं नही मिलता ।
जनता के साथ क्रूर मजाक कब खत्म होगा, यही कहना चाहती हैं ना आप ।

Bikramjit said...

Its all politcis .. Rahul gandhi is using all the tips in the book to make sure congress wins the election. THATS all it is about..

all of the parties and policticians are SAME..

Bikram's

भारतीय नागरिक - Indian Citizen said...

मुस्लिम खुद एक अलग समूह सा व्यवहार क्यों करते हैं, मुझे समझ नहीं आता. सबके साथ आगे आयें न कि सिर्फ वोट बैंक बनकर रह जायें.

चंद्रमौलेश्वर प्रसाद said...

अलबर्ट पिंटो को गुस्सा क्यों आता है :)

मनोज कुमार said...

हां मज़ाक़ ही है।

lokendra singh rajput said...

ये राहुल का चुरकुटपन है... लोंगो को बेवकूफ बनता घूम रहा है...

Bharat Bhushan said...

सभी कांग्रेसी जानते हैं कि राहुल में राजनीतिक समझ का अभाव है. बड़ी चालाकी से प्रिंयका का प्रोजेक्शन शुरू करा दिया गया है.
मीडिया उधर होगा है जिधर से उसे पैसा मिलेगा.

दिवस said...

मुसलमानों की खरीद-फरोख्त बंद नहीं होगी क्योंकि कि दरअसल उन्हें किसी ने नहीं उन्होंने सरकारों का ज़मीर करीद लिया है।
मीडिया भी छिछोरेपन से बाहर नहीं आ सकती क्योंकि बरखा दत्त जैसी मुल्लियों के हाथों में मीडिया की बागडोर आ गयी है। राहुल और प्रियंका इसलिए कि इन्होने कुत्तों को बोटियाँ फेंक दी हैं, कुत्ते तो अपना फ़र्ज़ निभा रहे हैं।
चुनाव आयोग का पक्षपात उसकी मजबूरी बन गया है। आज सरकारी अधिकारी हैं, किन्तु रिटायरमेंट के बाद ब्यूरोक्रेसी भी तो चाहिए।
मंत्रियों में खुद ही गरिमा नहीं बची तो गरिमा किस चिड़िया का नाम है, यह उन्हें कैसे पता चले, चाहे वह गरिमा पद की ही क्यों न हो?
जनता के साठ सत्ता का क्रूर मज़ाक उस दिन बंद होगा जब जनता स्वयं अपना मज़ाक उड़ना छोड़ देगी।
चाटुकार अपनी दम ही गिरवी रखवा चुके हैं।
विदेशियों को खुश करने के लिए ही तो भारत में राजनैतिक घटियापन होता है। अपना स्वाभिमान बेच चुके लोग ही घटियापन करते हैं। यह तो विडम्बना ही है कि असभ्य, चोर व लुटेरे होने के बाद भी विदेशियों का स्वाभिमान जीवित है।
लोकतंत्र है ही कहाँ जो इसकी परिभाषा समझी जाए? यहाँ तो सत्ता अंग्रेजों से अपने हाथ में भीख में ली गयी है।
मुसलमानों का स्वाभिमान अपने दीन-ए-इस्लाम के प्रति जगा हुआ है। इसके लिए इनके खून में उबला भी है। रही बात भारतीय बनने की तो इस्लाम में केवल मुल्ला बने रहना ज़रूरी है, इसके अलावा कुछ नहीं। जब भारतीय हैं ही नहीं तो भारत के लिए क्या ख़ाक लड़ेंगे?

जो कुछ भी करना है, हमे ही करना होगा, इन सब से अपेक्षाएं रखना बेकार है।

Anonymous said...

Wow, this piece of writing is fastidious, my younger sister is analyzing such
things, thus I am going to let know her.

Review my web page CleoDTojo

Anonymous said...

Good blog you have got here.. It's hard to find
excellent writing like yours these days. I seriously appreciate individuals like you!
Take care!!

Also visit my site ... JameeYWaitkus

Anonymous said...

Have you ever considered about adding a little
bit more than just your articles? I mean, what you say is fundamental
and all. Nevertheless think about if you added some great pictures or videos to
give your posts more, "pop"! Your content is excellent but with pics and video clips,
this blog could definitely be one of the most beneficial in its field.
Great blog!

Also visit my site ... AnnabellCLaake

Anonymous said...

Heya i'm for the first time here. I found this board and I to
find It truly helpful & it helped me out a lot. I hope to present something again and help others
such as you helped me.

Here is my homepage: KendaQChenauls

Anonymous said...

Thanks for finally writing about > "सत्ता का क्रूर मज़ाक..." < Liked it!

Also visit my website - AnnettaOKeenan

Anonymous said...

This info is worth everyone's attention. When can I find out more?


My web page - DorseyVLackage