Thursday, August 16, 2018

कायर है वो

कायर है वो!
न सीने में आग है,
न रक्त में उबाल है।
अन्याय सहता है
चुप रहता है
आवाज़ नहीं उठाता
वक़्त से पहले बूढ़ा हो गया।
जो लड़ते हैं ज़माने से,
रखते हैं सरोकार समाज से
फिक्र करते हैं आने वाली पीढ़ियों की
उन पर ग्रहण बनकर बैठ जाते हैं,
कायर हैं ये
नपुंसक हैं ये
नासूर हैं इस धरती का,
बोझ हैं ये इस समाज पर,
कायर हैं ये,
बेमतलब हैं ये।

8 comments:

राजा कुमारेन्द्र सिंह सेंगर said...

आपकी इस पोस्ट को आज की बुलेटिन मौत से बेख़बर, ज़िन्दगी का सफ़र तय करने वाले सर्वप्रिय अटल जी को सादर नमन में शामिल किया गया है.... आपके सादर संज्ञान की प्रतीक्षा रहेगी..... आभार...

जयंत - समर शेष said...

कायर हैं वो...। सटीक बात। सुंदर। 🙏🏼

Joyti web expert said...

I love reading your blog posts as they are very creative and informative. Can i get something on Laptop Data Recovery Chandigarh as well ?.Thanks !!

sahil rana said...

Exactly what i was looking for. Can you write on USB Drive Data Recovery Chandigarh as well.

Daisy said...

Best Packers and Movers in Bangalore
Best Packers Movers Bangalore
Best Packers and Movers in Delhi

Daisy said...

Send Best Gifts To India Online
Send Birthday Gifts Online
Online Cakes Delivery in India

Daisy said...

Best Packers and Movers in Bangalore
Best Packers Movers Bangalore
Best Packers and Movers in Delhi

PurpleMirchi said...

Valentines Day Roses Online